रास्ता होता तो बच सकती थी नन्हे बच्ची की जान
June 20th, 2020 | Post by :- | 447 Views
मोरनी (अरुण वर्मा )
मोरनी के गवाही गांव (टाठा ) में देर रात जहरीले सांप के काटने से एक 6 वर्षीय लड़की कुसुम लता की मौत हो गई इसका कारण रहा की बच्ची  को स्वास्थ्य सेवाएं  इसलिए नहीं मिल पाई  कि वहां पर आने जाने के साधन नहीं थे  जिस के इलाज में  देरी होने के कारण  बच्चे की  मौत हुई लड़की के पिता  जीत सिंह ने बताया कि  देर रात लड़की अपने घर  मैं सौ रही थी की लड़की को साप ने काट लिया जब इस बारे में लड़की के पिता को पता चला  तो उन्होंने  लड़की को गोदी में उठाकर  डॉक्टर के पास लेकर जा रहे थे  परंतु सड़क सुविधा  रास्ता ना होने पर  नन्ही बच्ची ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया
रास्ता न होने की वजह से लोगो को पैदल अपने घर से बहुत दूर दूर तक चलके जाना पड़ता है यही कारण हुआ कि अगर गांव से रास्ता होता तो किसी साधन पर लड़की को ले जाया जा सकता था परंतु रास्ता ना होने से लड़की ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया
 लडकी के पिता जीत सिंह ने बताया कुसम लता अभी पहली कक्षा मे पढ रही थी । पिता अपनी बेटी को गोद मे उठा कर करीब दो किलो मीटर पैदल चला मगर गाव मे सडक सुविधा ना होने के कारण लडकी ने रास्ते मे ही दम तोड दिया। टाठा से मलौण स्कूल तक सडक वनाने के लिए पैसा भी मजूर कर रखा है मगर सरकार ने आब तक इस गाव के लिए सडक नही बनाई, अगर गाव तक सडक सुविधा होती तो लडकी की जान वच सकती थी उन्होने कहा की इससे पहले भी गाव मे कई मौते हो चूकी है ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।