अम्बाला व गांव जिओली, नरायणगढ़ मे कानूनी साक्षरता शिवर का आयोजन किया गया।
June 20th, 2020 | Post by :- | 16 Views

अम्बाला:(अशोक शर्मा)
जिला एवं सत्र न्यायाधीश व अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, कमल कांत व हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, पंचकूला के आदेशानुसार आज जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, अम्बाला व उपमण्डलीय विधिक सेवा कमेटी, नरायणगढ के पैनल अधिवक्ताओं व पी.एल.वी. द्वारा गांव टोबा, अम्बाला व गांव जिओली, नरायणगढ़ मे कानूनी साक्षरता शिवर का आयोजन किया गया।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एवं सी जे एम दानिश गुप्ता ने बताया कि कोरोना महामारी के लक्षणों, परिणामों व सुरक्षा हेतू लोगो को जागरूक करने के लिए इन शिविरों को आयोजन लगातार किया जा रहा है। पैनल अधिवक्ता व पी.एल.वी. शहर व गांव मे जाकर महामारी से बचाव हेतू मास्क, सैनिटाइजर इत्यादि के उपयोग के बारे मे लोगों को जागरूक कर रहे है। इसके अलावा लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाने वाली सरकारी योजनाओं की जानकारी भी प्रदान की जा रही है। उन्होने बताया कि किसी भी तरह की कानूनी सलाह के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, अम्बाला का दूरभाष नं. 0171-2532142 व उपमण्डलीय विधिक सेवा कमेटी, नरायणगढ़ का दूरभाष नं. 01734-285922 भी लोगों को उपलब्ध करवाया जा रहा है। जिससे ए. डी. आर. सैंटर अम्बाला मे व्यक्तिगत रूप से संपर्क किए बिना भी दूरभाष के द्वारा मुफ्त कानूनी सहायता प्राप्त की जा सकती है।

अम्बाला (अशोक शर्मा)
गांव दुराना निवासी साहिल गुप्ता पुत्र मोहन लाल 14 जून को घर से बिना बताए कहीं चला गया है जोकि अभी तक घर वापिस नहीं लौटा है। परिजनों ने अपने स्तर पर साहिल की काफी तलाश की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पा रहा है। मामले की जांच कर रहे मुख्य सिपाही बलवान सिंह ने बताया कि इस संबध में परिजनों ने विशाल की गुमशुदगी की रिपोर्ट थाना सदर अम्बाला में दर्ज करवाई है। उन्होने बताया कि साहिल की उम्र लगभग 28 साल, कद 5 फुट 6 इंच, रंग सांवला, लम्बुतरा चेहरा तथा घर से जाते समय उसने नीले रंग की कैपरी व पीले रंग की टी शर्ट पहनी हुई है। इस संबध में यदि कोई भी जानकारी मिलती है तो जांच अधिकारी के मोबाईल नम्बर 9050791819, थाना प्रंबधक के मोबाईल नम्बर 9729990121 व थाना सदर के दूरभाष नम्बर 0171-2531414, कंट्रोल रूम नम्बर 0171-2555821, 2553223 पर दे सकता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।