पूर्व सरपंच एवं पूर्व ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष के पॉजिटिव आने से चिंता बढ़ी
June 19th, 2020 | Post by :- | 50 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  । नूह कांग्रेस के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष एवं अड़बर गांव के पूर्व सरपंच मोहम्मद शरीफ के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से कांग्रेस के तीनों विधायकों के अलावा मुख्यमंत्री दरबार तक में बेचैनी बढ़ सकती है । इसके अलावा कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं व अधिकारियों की चिंता भी बढ़ना लाजमी है ।
 आपको बता दें की नुह कांग्रेस के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष एवं पूर्व सरपंच मोहम्मद शरीफ अपने ही गांव के एक कोरोना पॉजिटिव मरीज के कांटेक्ट में आए थे ।स्वास्थ्य विभाग ने चार – पांच दिन पहले उनका सैंपल लिया था। गुरुवार को सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना पॉजिटिव मोहम्मद शरीफ को घर में एकांत में रहने की बात कही और घर के बाहर प्लेट लगा दी। खास बात यह रही सैंपल लिए जाने के बावजूद भी मोहम्मद शरीफ कांग्रेस के नेताओं व कार्यकर्ताओं से रोजाना की तरह मिलते रहे । खबर तो यहां तक है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आगमन से ठीक पहले जब तीनों कांग्रेस के विधायक मुख्यमंत्री से मिलने के लिए रणनीति बना रहे उस दौरान भी मोहम्मद शरीफ कांग्रेस के विधायकों के संपर्क में आए । अगले दिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मेवात जिले में अमन व भाईचारे में आ रही दरार को पाटने के लिए नूह का दौरा किया और लघु सचिवालय परिसर में अधिकारियों व दोनों समुदाय के लोगों से अलग – अलग व संयुक्त बैठक भी की। इसी दौरान कांग्रेस के तीनों विधायक मुख्यमंत्री मनोहर लाल से भी लघु सचिवालय नूह में मिले । अब खास बात यह है की मोहम्मद शरीफ कांग्रेस नेता के पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनके कांटेक्ट में कितने लोग आए इस बात की जांच में स्वास्थ्य विभाग जुटा हुआ है। जिला नॉडल अधिकारी एवं डिप्टी सिविल सर्जन अरविंद ने बताया कि कांग्रेस नेता पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष मोहम्मद शरीफ को रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही घर में एकांत में रखा गया था । उन्होंने कहा कि उनको आज जिला कोविड केयर सेंटर पिनगवां लाने की तैयारी चल रही है। डिप्टी सिविल सर्जन ने कहा की पूर्व ब्लाक अध्यक्ष के कांटेक्ट में कितने लोग आए हैं। इसको बारीकी से खंगाला जा रहा है । कुल मिलाकर कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष को कोरोना की पुष्टि होते ही सीएम दरबार तक की मुश्किल बढ़ सकती है । इसके अलावा कांग्रेस के कई नेताओं व कार्यकर्ताओं का या तो सैंपल लिया जा सकता है या फिर उन्हें घर में ही एकांत में रखने के सलाह स्वास्थ्य विभाग जारी कर सकता है। कुल मिलाकर कांग्रेस नेता के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद इलाके से लेकर सीएम दरबार तक की मुश्किल बढ़ने से इनकार नहीं किया जा सकता। मामला तीन कांग्रेस विधायकों से लेकर सीएम दौरे का है , इसलिए स्वास्थ्य विभाग किसी हड़बड़ी के बजाय बड़ी सूझबूझ से काम ले रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।