बैंक अधिकारी अपने लक्ष्यों को निर्धारित समयावधि मेें पूरा करें: उपायुक्त
June 19th, 2020 | Post by :- | 144 Views

भिवानी, 19जून संवाद सहयोगी ममता गौड़।
स्थानीय पंचायत भवन में बैंकों की जिला स्तरीय समीक्षा समिति की बैठक आयोजित हुई। बैठक की अध्यक्षता उपायुक्त अजय कुमार ने की। उन्होंने बैंकों से संबंधित विभिन्न ऋण सहायता योजनाओं की समीक्षा की और उनके लक्ष्य को निर्धारित समयावधि में पूरा करने के निर्देश दिए। उपायुक्त ने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने बैंक परिसर में कोविड-19 महामारी संक्रमण से बचाव को लेकर बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बैनर या अन्य प्रसार सामग्री जरूर लगवाएं ताकि बैंक में आने वाला नागरिक उस पर अमल कर सके। उन्होंने कहा कि यदि कोई ग्राहक मास्क का प्रयोग नहीं करता है तो प्रशासन का सूचित करें, वहीं पर उनका 500 रुपए चालान काटा जाएगा। उन्होंने बैंक के मुख्य द्वार पर सेनीटाईजर की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए। बैठक का आयोजन लीड बैंक के तहत के किया गया। इस दौरान अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार ने जरूरी निर्देश दिए।
बैठक को संबोधित करते हुए उपायुक्त ने प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, जीवन ज्योति बीमा योजना, मुद्रा योजना, डिजीटल ट्रांजक्शन, प्रधानमंत्री आवास योजना, एनआरएलएम, किसान पशु क्रेडिट कार्ड, प्रधानमंत्री रोजगार गारंटी योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना व पेंशन योजना सहित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे उनके दिए जाने वाले ऋण संबंधी लक्ष्य को निर्धारित समयावधि मेें पूरा करें। उन्होंने कहा कि बैंक में लोन लेने के लिए आने वाले नागरिक से जरूरी दस्तावेज पहले ही मांगे और ताकि उनको ऋण के लिए बार-बार चक्कर न लगाने पड़ें। उन्होंने कहा कि ऋण देने में किसी भी प्रकार की कोताही पर संबंधित बैंक अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए जरूरतमंदों को ऋण प्रदान करें ताकि वे अपना रोजगार शुरु कर सकें। यह एक पुण्य का काम भी है। उन्होंने कहा कि डीआरआई के तहत ज्यादा से ज्यादा गरीब लोगों को ऋण मुहैया करवाएं।
उपायुक्त ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों के खाते से बीमा राशि काटकर समय से बीमा कंपनी को प्रेषित करें और पोर्टल पर किसानों का डाटा समय से और सही तरह से अपलोड करें ताकि किसानों को बीमा कंपनी से उनकी खराब फसल का मुआवजा मिल सके। उन्होंंने खोले जाने वाले खातों को आधार से लिंक जरूर करें।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि बैंक अधिकारी सरकार की ऋण संबंधी योजनाओं को सही ढंग से मूर्तरूप प्रदान करें। ये योजनाएं जरूरतमंदों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने वाली हैं। इस दौरान नाबार्ड से सोहनलाल ने भी उनके द्वारा दी जानी वाली ऋण सहायता की जानकारी दी। इसी प्रकार से पशुपालन विभाग के उप निदेशक डॉ. जय सिंह ने किसान पशु क्रेडिट कार्ड को शीघ्र जारी करने को कहा। बैठक में जीएम डीआईसी से हरियाणा उद्यम सहयोग पोर्टल के बारे में विस्तार से बताया। क्षेत्रीय प्रबंधक रणधीर पानू ने सभी का आभार व्यक्त किया। कुलजीत सिंह ने एनआरएलएम के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि बलियाली शाखा ने सबसे अधिक स्वयं सहायता समूहों को ऋण प्रदान किए हैं। इस दौरान उपायुक्त व अतिरिक्त उपायुक्त ने बैंक मैनेजर को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।