डाईट में जे०बी०टी० कोर्स शुरू कराने की मांग को लेकर विधायक को सौंपा ज्ञापन|  
June 19th, 2020 | Post by :- | 39 Views

पलवल (मुकेश कुमार हसनपुर) 19 जून :- डाईट के प्राध्यापकों का शिष्टमंडल ग्राम जनौली के सरपंच के साथ पलवल क्षेत्र के विधायक दीपक मंगला से उनके निवास पर मिला। शिष्टमंडल ने जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डाईट) जनौली (पलवल) में  डी.एल.एड. के दाखिले फिर से शुरू करने की मांग रखते हुए विधायक दीपक मंगला को ज्ञापन दिया ।

डाईट के वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ परेश गुप्ता ने बताया कि किस तरह योग्य बच्चो को योग्यता होने के उपरांत भी निजी शिक्षण संस्थानों में भारी भरकम फीस देकर डी.एल.एड. का डिप्लोमा करने पर मजबूर होना पड़ रहा है। डाईट का कार्य इन सर्विस टीचर ट्रेनिंग व प्री सर्विस टीचर ट्रेनिंग के साथ साथ शिक्षा विभाग व शिक्षण संस्थानों के मध्य समन्वय स्थापित करना है ।

डाईट मुख्य रूप से अध्यापकों को प्रशिक्षण, नशामुक्ति जागरूकता, युवा संसद, युवा ग्राम पंचायत, हिंदी पखवाड़ा, विशेष दिवसों का पूरे जिले में आयोजन, पाठ्यक्रम निर्माण, शिक्षण प्रविधियों व शैक्षणिक वातावरण के निर्माण में सहयोग प्रदान करती है। डा. ब्रजपाल सिंह ने बताया कि डाईट जैसे संस्थान में डी.एल.एड. के दाखिले न होना दुर्भाग्यपूर्ण है जबकि निजी संस्थानों में बहुत महंगे दामों पर यही शिक्षा उपलब्ध है। विधायक दीपक मंगला ने प्राध्यापकों के शिष्टमंडल को इस समस्या का समाधान करने का आशवासन दिया।

वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ परेश गुप्ता ने बताया ने बताया कि डाईट में यह डिप्लोमा करने वाले विद्यार्थी बहुत ही अनुशासन व लगन से इस कोर्स को करते हैं। जिससे उनका विभिन्न प्रतियोगितओं में सफलता का प्रतिशत भी निजी संस्थानों के मुकाबले बहुत अधिक होता है । विधायक दीपक मंगला ने इस मामले को मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री के समक्ष रखने का आश्वासन दिया। इस शिष्टमंडल में डाईट कोआर्डिनेशन कमेटी के सदस्य जितेन्द्र सिंह, डॉ हर्ष कुमार, भगवत प्रसाद शर्मा, बीर सिंह तथा ग्राम पंचायत जनौली के सरपंच बलदेव उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।