राष्ट्रीय युवा कांग्रेस किसान संगठन प्रदेश अध्यक्ष विकास चौधरी ने महंगाई के खिलाफ आवाज उठाई
June 18th, 2020 | Post by :- | 85 Views

नांगल चौधरी (वीरेंद्र सिंह जाजम) राष्ट्रीय युवा कांग्रेस किसान संगठन प्रदेश अध्यक्ष विकास चौधरी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में लगातार गिरावट के बाद भी देश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ाए जा रहे हैं। मई 2014 में कच्चे तेल की कीमत 107.09 डालर प्रति बैरल थी, जो कि जून 2020 में 40.66 डॉलर प्रति बैरल है।

अंतर जो है वह 66 .43 डालर प्रति बैरल का है। अगर हम कीमतों पर ध्यान दें तो मई 2014 में पेट्रोल 71 .4 1 रुपए प्रति लीटर और डीजल 55 . 49 रुपए प्रति लीटर था । जो अब जून 2020 में बढ़कर पेट्रोल 76. 26 और डीजल 74 .62 रुपए प्रति लीटर है। डीजल और पेट्रोल की कीमतों में एक्साइज ड्यूटी में जो बढ़ोतरी हुई है वह पेट्रोल में 258 .47% और डीजल में 819 . 94 % की की गई। जो कि बहुत ही दुख की बात है। कायदे से तो पेट्रोल और डीजल के दाम घटने चाहिए थे। लेकिन सरकार आए दिन बढ़ाए जा रही है।

राष्ट्रीय युवा कांग्रेस किसान संगठन प्रदेश अध्यक्ष विकास चौधरी उन्होंने कहा कि इस भारी संकट के समय में भी मार्च महीने से आज तक सरकार ने ,10 अलग-अलग अवसरों पर पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ाने का पूर्णतया असंवेदनशील निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की आर्थिक मार ने छोटे बड़े व्यवसायो को तबाह करने का काम किया है। बहुत से लोगों की आजीविका इस संकट के दौरान खत्म हो चुकी है ऐसे समय में निरंतर कीमतों का बढ़ाना उचित नहीं है। विकास चौधरी ने प्रधानमंत्री जी से यह भी आग्रह किया कि प्रधानमंत्री जी यदि आप चाहते हैं कि देश के नागरिक वाकई आत्मनिर्भर बने तो उन्हें वित्तीय बंधनों में बांधकर आगे बढ़ने से ना रोके सरकार के संसाधनों का इस्तेमाल सीधे देशवासियों के हाथों में पैसा पहुंचाने के लिए करें जिसकी इस मुश्किल की घड़ी में सबसे ज्यादा जरूरत है।

उम्मीद है प्रधानमंत्री जी लोगों की भावनाओं को समझेंगे , और इस पर विचार करते हुए बढ़ी हुई कीमतों को वापस लेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।