राशन वितरण में अनियमितता की जांच कराएं: पं. श्रीकान्त शर्मा
June 15th, 2020 | Post by :- | 59 Views

मथुरा,(राजकुमार गुप्ता) उत्तर प्रदेश  ऊर्जा मंत्री  एवं प्रभारी मंत्री मेरठ पं. श्रीकान्त शर्मा ने सोमवार को जनपद में चल रहे विकास कार्यों और कोरोना संकटकाल में की जा रही व्यवस्थाओं की वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये समीक्षा की। राशन वितरण में धांधली, कालाबाजारी व पात्र व्यक्तियों को राशन न मिलने की शिकायतों पर उन्होंने डीएम से एक सप्ताह में जांचकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। यह भी कहा कि नगर निगम क्षेत्र में जनप्रतिनिधियों द्वारा उपलब्ध कराई गई सूची का पुनः सत्यापन कराकर सभी पात्रों को राशनकार्ड उपलब्ध करायें।

जनप्रतिनिधियों ने राशन वितरण में अनियमितताओं की शिकायत की। जिसे प्रभारी मंत्री ने गंभीरता से लिया। उन्होंने निर्देश दिया कि कहीं भी अनियमितता के मामलों में किसी प्रकार की रियायत नहीं मिलेगी, सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। मा. मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुरूप हर पात्र व्यक्ति के राशन कार्ड की व्यवस्था होनी चाहिए। यदि राशनकार्ड नहीं भी है तो संकटकाल में उसके लिए राशन किट की व्यवस्था की जाए।

सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन न होने की शिकायतों पर उन्होंने डीएम और एसएसपी को निर्देशित किया कि सभी क्षेत्रों में सघन पेट्रोलिंग करें। कोरोना का संकट अभी टला नहीं है। इसलिए सक्रियता फील्ड में दिखाई देनी चाहिए। उन्होंने निर्देशित किया कि गांव में सैनिटाइजेशन का काम ठीक से कराया जाए। कई गांवों में भी कोविड मरीज मिले हैं। जहां मरीज आ रहे हैं वहां स्क्रीनिंग व निगरानी ठीक से करायें। किसी भी दशा में इसके प्रसार को रोका जाना है। आयुष्मान भारत योजना के सभी पात्रों को कार्ड वितरित न होने की शिकायत पर उन्होंने अप्रसन्नता जाहिर करते हुए इस पर रिपोर्ट तलब की है।

मलियाना नाले के निर्माण संबंधी रुकावटों का समाधान न होने पर भी प्रभारी मंत्री ने नाराजगी जाहिर की। कहा कि नगर निगम व विकास प्राधिकरण के अधीन कालोनियों में बारिश में जलभराव की शिकायतें नहीं आनी चाहिए। समस्याओं का निदान अधिकारी ठीक ढंग से करें। उन्होंने निर्देशित किया कि लो लाइंग एरिया में पम्प लगाकर यहां भी जल निकासी की व्यवस्था की जाए। कहीं भी लापरवाही नहीं दिखनी चाहिए।

प्रभारी मंत्री ने विकास प्राधिकरण द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत निर्माणाधीन परियोजनाओं व कांशीराम आवास के अधूरे कार्यों में विलंब पर अप्रसन्नता जाहिर की। कहा कि परियोजना में विलंब से पात्रों को कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।
सफाई व्यवस्था में ढिलाई की शिकायतों पर उन्होंने डीएम को निर्देशित किया कि वह खुद नगर आयुक्त के साथ क्षेत्र में निकलें।

उन्होंने 100 बेड के ईएसआई हॉस्पिटल के लिए शासन से प्रस्ताव मंगाने, चीनी मिलों द्वारा किसानों के बकाये के भुगतान, प्रवासियों को रोजगार, कानून व्यवस्था के सख्ती से अनुपालन के निर्देश दिए। अनियमितता व उत्पीड़न की शिकायतों पर सीओ दौराला को अटैच करने व उनके खिलाफ लंबित जांच शीघ्र पूरी करने के निर्देश भी प्रभारी मंत्री द्वारा दिये गए। उन्होंने साफ किया कि क्वारन्टीन सेंटर्स व कोविड वार्ड की सुविधाओं पर वह कभी भी निरीक्षण कर सकते हैं। यह भी निर्देश दिया कि पुलिस प्रशासन बाजारों में सघन पेट्रोलिंग बढ़ाये। साथ ही अधूरी सड़क परियोजनाओं को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश भी दिए। कहा कि वह विकास कार्यों की 20 जुलाई को दोबारा समीक्षा करेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।