अधिकारियों के तानाशाही रवैये से नाराज बिजली कर्मचारियों ने उपमण्डल अधिकारी के कार्यालय पर किया प्रदर्शन|
June 15th, 2020 | Post by :- | 128 Views

पलवल (मुकेश वशिष्ट हसनपुर) 15 जून :- बिजली कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान ना होने तथा अधिकारियों के तानाशाही रवैये से नाराज सोमवार को बिजली कर्मचारियों ने उपमण्डल अधिकारी हसनपुर के कार्यालय पर इकठ्ठे होकर जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। सब यूनिट प्रधान रणसिंह की अध्यक्षता में आयोजित प्रदर्शन का संचालन सचिव धर्मेन्दर सिंह ने किया।

प्रदर्शनकारी बिजली कर्मचारियो को सम्बोधित करते हुए सर्व कर्मचारी संघ के ब्लाक प्रधान अनिल कुमार व आल हरियाणा पावर कारपोरेशन वर्कर्स यूनियन के यूनिट उपप्रधान योगेश शर्मा ने बताया कि बिजली निगमों में कर्मचारियों की भारी कमी के बावजूद बिजली कर्मचारी पूरी मेहनत से जनता व निगम की सेवा में लगे हुए हैं। प्रत्येक कार्यालय में कर्मचारियों की कमी से जूझ रहे कर्मचारी ज्यादतर शिकायत केंद्र पर अकेले डयुटी दे रहे हैं, जिसके कारण बिजली कर्मचारियों की दुर्घटनाएं बढ़ रही है। दुर्घटना होने के बाद अधिकारी कर्मचारियों के खिलाफ ही कार्यवाही करके उन्हें उत्पीडित करते हैं। बिजली की लाईनों के जाल बिछ्ने के कारण लाईनें एक दूसरी से क्रॉस कर रही हैं।

यूनियन द्वारा बार-बार शिकायत करने के बावजूद क्रॉसिंग हटाने की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। यूनियन नेताओं ने आरोप लगाया कि ठेकेदारों व बिजली अधिकारियों की मिलीभगत से पूरा खेल चल रहा है। कर्मचारियों की सुनवाई करने की बजाय उनके ऊपर अनावश्यक दवाब बनाया जाता है, इसी को लेकर शुक्रवार को एक बिजली कर्मचारी की दुर्घटना हो गई। घायल कर्मचारी नोएडा के एक अस्पताल में जिन्दगी व मौत से जूझ रहा है।उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कर्मचारियों की समस्याओं का शीघ्र समाधान नहीं किया गया तो आन्दोलन को तेज करने फैसला किया जाएगा। प्रदर्शन में कर्मचारी नेता टेकचन्द, अमर सिंह, सतीश कुमार, नरेशकुमार व रमेश चन्द ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

क्या कहते है उपमण्डल अधिकारी बिजेंन्द्र कुमार :- प्रदर्शन के बारे में मेरे को तो अभी कुछ पता नही लगा बाकी कर्मचारियों से मेरी मीटिंग बुद्धवार को हुई थी | इनकी जो मांगे थी या किसी के ट्रांसफर जहा तहा करने थे मैंने इनकी मांगे मान ली थी | इनके एजेंडे में कर्मचारियों की भारी कमी कहा गया हैं जबकि सभी 14 कमलेंट सेंटरों पर कम से कम दो कर्मचारी हैं | एक कर्मचारी दुर्घटनाग्रस्त हुआ था वो भी अब ठीक हैं मेरी उससे बात हो चुकी हैं | कर्मचारियों की अन्य मांगों पर कार्य जारी हैं विभाग को आगे लिखित में भेजा हुआ हैं|

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।