जंडियाला गुरु में नशीली गोलियों का अवैध कारोबार हो रहा है बड़े स्तर ।
June 14th, 2020 | Post by :- | 366 Views

जंडियाला गुरु में नशीली गोलियों का कारोबार हो रहा है बड़े स्तर पर ।
पुलिस और ड्रग विभाग करेगा मिलकर कार्रवाई :डी एस पी ।
जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह
जंडियाला गुरु में नशीली गोलियों का कारोबार बड़े स्तर पर हो रहा है ।जबकि सेहत विभाग कुंभकर्ण की नींद सोया हुआ है । क्रोना से भी खतरनाक यह नशीली गोलियां का नशा है जो नशेड़ी होता है वह बिना खाये कोई भी काम नही कर सकता है। इसी की आड़ में नशीली गोलियां का कारोबार करने वाले मेडिकल स्टोर इन गोलियों को चौगुना दाम पर बेचते हैं।
इन नशीली गोलियों का इस्तेमाल ज्यादातर वह डॉक्टर मरीज़ो को करने के लिए देते हैं जिनको ज्यादातर पर बेड रेस्ट की मरीज़ की हालत के अनुसार जरूरत हो ।इसके लिए वही डॉक्टर वह गोली लिखकर दे सकता है जो डॉक्टर डिग्री होल्डर हो ।वही ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट 1940 के अनुसार ग्राहक को मैडिकल स्टोर के मालिक द्वारा बेची गई प्रत्येक दवा का कैश मेमो देना अनिवार्य है ।इसी तरह नारकोटिक्स ड्रग्स सैकोटरोपिक सब्सटेंस एक्ट 1985है ।नारकोटिक्स का अर्थ है कि नींद और सैकोटरोपिक का अर्थ उन पदार्थो से है जो मस्तिष्क के कार्यक्रम को परिवर्तित कर देता है।
इसी एक्ट की धारा 71 के अंतर्गत सरकार जो लोग नशीली दवा के आदि है उन लोगों की पहचान ,इलाज और पुनर्वास केंद्र की स्थापना का अधिकार है ।जबकि धारा 42 के तहत जांच अधिकारी बगैर किसी वारन्ट या अधिकार पत्र के तलाशी लेनेब,मादक पदार्थ ज़ब्त करने औऱ गिरफ्तार करने का अधिकार दिया है ।
बावजूद इनके सेहत विभाग के ड्रग इंस्पेक्टर ने मेडिकल स्टोर की नियमों के तहत पिछले लंबे समय चेकिंग नही की है जिसके चलते यह गोरखधंधा बढ़ता जा रहा है । इसके कारण हमारे युवक जो देश का भविष्य है वह लगातार इस नशे के कुएं में गिरते जा रहें है अगर हालात ऐसे ही रहें तो वो दिन दूर नही जब शायद कोई युवक इस कोहड़ से बचा होगा ।
वही कानून के माहिरों अनुसार सेहत विभाग और पुलिस विभाग नियमों के साथ इस अवैध नशीली गोलियों के कारोबार को नकेल डाली तो बड़े स्तर पर इन पर काबू पाया जा सकता है ।बता दे कि गुप्त सूचना के मुताबिक इन नशीली गोलियां के कारोबारियों ने इन नशीली गोलियों का बड़ा स्टॉक अपने गुदामों मे कर रखा है ।
इस मामले में जब अमृतसर के सिविल सर्जन डॉक्टर जुगल किशोर से बात करनी चाही तो उन्होंने ने बार बार पत्रकार द्वारा फोन करने पर भी नही उठाया ।फिर पत्रकार द्वारा पंजाब के ड्रग कंट्रोलर प्रदीप मट्टू से बात की गई तो उन्होंने कहा वह अपनी टीम पुलिस के साथ भेजेंगे दुकानों और गुदामों पर छापेमारी होगी ।जो भी कसूरवार होगा उसका लाइसेंस होगा रदद् होगा।
इसी तरह डी एस पी जंडियाला गुरु डी एस पी मनजीत सिंह ने कहा कि वो भी इस मामले को लेकर काफी गंभीर है और सेहत विभाग की टीम के साथ मिलकर अभियान चलाएंगे ,इसलिए कि इस कोहड़ को खत्म किया जा सका ।
फ़ोटो कैप्शन ,ड्रग कंट्रोलर पंजाब प्रदीप कुमार मट्टू ।
डी एस पी जंडियाला गुरु मनजीत सिंह

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।