बिजली व पानी की समस्या को दूर करने के लिए अधिकारियों को दिए निर्देश|
June 14th, 2020 | Post by :- | 377 Views

पलवल (मुकेश वशिष्ट हसनपुर) 14 जून :- क्षेत्रीय विधायक जगदीश नायर ने रविवार को होडल अपने निवास पर आयोजित प्रैस वार्ता में पत्रकारों को बताया कि आगामी बरसात के दिनों में शहर में जलभराव की समस्या को पूरी तरह से दूर किया जाएगा। इसके अलावा चरमराती बिजली व्यवस्था को भी दुरूस्त कराया जाएगा। नायर ने बताया कि आगामी बरसात के दिनों में शहर वासियों के लिए शहर में जलभराव की समस्या पैदा ना हो इसके लिए जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह सीवरेज की सफाई कराकर उन्हें दुरूस्त करें |

जिससे की शहर में जलभराव की समस्या पैदा नहीं हो सके वहीं चिलचिलाती गर्मी को देखते हुए विधायक नायर ने बिजली निगम के अधिकारियों की बैठक लेकर चरमराती बिजली व्यवस्था को दुरूस्त कराने के निर्देश दिए है जिससे की लोगों के लिए बिजली के साथ-साथ पीने के पानी की भी  किल्लत पैदा ना हो सकें। नायर ने बताया कि कोविड-19 महामारी को देखते हुए नगर परिषद के अधिकारियों से शहर की नालियों व सफाई व्यवस्था को दुरूस्त रखने की निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी को देखते हुए शहर की सफाई के प्रति कोई भी लापरवाही नहीं बरती जाएगी और अगर कोई लापरवाही बरतता है तो उस अधिकारी व कर्मचारी के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

नायर ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर जन समस्याओं से संबंधित सभी विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को आदेश दिए गए हैं कि वह जनता की सभी समस्याओं को दिन-रात कार्य कर दूर करें जिससे की जनता को आगामी समय में दिक्कतों का सामना ना करना पडा। उन्होंने क्षेत्र की जनता से अपील की है कि अगर किसी भी विभाग का कोई  कर्मचारी किसी का कार्य नहीं करता है तो वह उनसे फोन पर भी शिकायत कर सकते हैं वह तुरन्त कर्मचारी के खिलाफ कार्यवाही कर उन्हें उस समस्या से निजात दिलाएंगे। उन्होंने लोगों से यह भी अपील की है कि इस कोविड-19 महामारी से बचने के लिए वह एक दूसरे से दूरी बनाकर रखें, बार-बार हाथ धोएं, मुंह पर मास्क लगाएं, सडक पर ना थूकें तथा अपने घरों के अंदर ही रहें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।