हिंदू – मुस्लिम ने निकाली अमन यात्रा
June 13th, 2020 | Post by :- | 97 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  हरियाणा के मुस्लिम बाहुल्य जिला में हिंदुओं के पलायन धर्म परिवर्तन के अलावा दलितों पर अत्याचार जैसे गंभीर आरोपों सेनूंह जिले के लोग तेल मिल आए हुए हैं कुछ मीडिया घरानों ने खबरों को जिस तरह से पेश किया गया है उससे भी लोग बेहद नाराज हैं मेवात के अमन में भाईचारे को कायम रखने के लिए तथा शरारती तत्वों को सबक सिखाने के लिए शुक्रवार को दोपहर बाद अनाज मंडी पुनहाना से लघु सचिवालय नाना तक अमन यात्रा निकाली गई अमन यात्रा में हिंदू मुस्लिम समुदाय के लोगों के अलावा दोनों समुदाय की महिलाओं तथा धर्मगुरुओं ने भी भाग लिया अमर यात्रा के दौरान लोगों ने हिंदू मुस्लिम एकता के नारे लगाए और करीब 1 किलोमीटर पैदल चलकर लघु सचिवालय पहुंचकर तहसीलदार पुनहाना के मार्फत हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को ज्ञापन भेजा पत्रकारों से बातचीत के दौरान हिंदू धर्म के लोगों ने कहा कि कुछ लोग इस इलाके के सदियों से चले आ रहे हैं भाईचारे को खराब करने की साजिश रच रहे हैं यहां दलितों पर किसी प्रकार का कोई अत्याचार नहीं होता है इसके अलावा बहन बेटियों को स्कूल कॉलेज आते जाते समय कोई छेड़छाड़ नहीं होती और ना ही धर्म परिवर्तन जैसे मामले सामने आए हैं कुछ लोग इलाके की साख खराब करने के लिए इस तरह के बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं और कुछ मीडिया घराने इन खबरों को बेवजह तूल दे रहे हैं लेकिन सदियों से चले आ रहे इस हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल को कायम रखा जाएगा ऐसी ताकतों को मिलकर मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा अभी तो करो ना महामारी की वजह से ज्यादा संख्या में लोग एकत्रित नहीं हुए अगर जरूरत पड़ी तो बड़ा जुलूस प्रदर्शन भी इलाके में किया जा सकता है दलित समुदाय के लोगों ने साफ तौर पर कहा कि अगर मुक्ति सलीम की बेटी की शादी होती है तो उस समय सिंह उसका सारा जिम्मा संभालता है इसके अलावा जिस गांव में  हिंदू परिवार के घर हूं और वहां पर उन्हें सरपंच इत्यादि पदों पर मुस्लिम समाज के लोग जताकर भेज दें इससे बढ़िया भाईचारे की मिसाल दुनिया में शायद दूसरे किसी इलाके में देखने को मिलती होगी प्रदर्शन के दौरान लोगों ने तथा महिलाओं ने अपने हाथों में नारे व स्लोगन लिखे हुए पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया कुल मिलाकर शुक्रवार को अमन यात्रा के दौरान यह संदेश देने की भरपूर कोशिश की गई यहां का भाईचारा इस तरह के नापाक साजिशों से टूटने वाला नहीं है हिंदू मुस्लिम यहां भाई भाई की तरह दशकों से रहते आ रहे हैं आगे भी इसी तरह इस इलाके में अमन बरकरार रहे इसे लेकर हर संभव कोशिश की जाएगी कुल मिलाकर भले ही शुक्रवार को अमन यात्रा के दौरान महिलाओं में पुरुषों की संख्या कम दिखाई दे रही हो लेकिन कम संख्या के बावजूद भी इन लोगों ने बड़ा संदेश देने का काम किया है अब ऐसे लोगों के मुंह पर तमाचा लग सकता है जो मेवात जिले के भाईचारे पर तोहमत जल रहे हैं और इस इलाके को दुनिया भर में बदनाम कर रहे हैं हिंदू परिवारों ने तो यहां तक कहा कि इससे हिंदुओं का ज्यादा नुकसान है लंबे समय तक बहन बेटियों तथा बेटों के रिश्ते करने तक में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है इस तरह की खबरों को देखने में सुनने के बाद कोई न्यू इलाके में अपने बच्चों का रिश्ता नहीं करना चाहेगा इसीलिए ऐसे लोगों को अपनी हरकतों से बाज आना चाहिए जो अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए हिंदू-मुस्लिम को लड़ाने की साजिश रच रहे हैं। अमन यात्रा की अगुवाई रसीद अहमद एडवोकेट एवं समय सिंह सलंबा एडवोकेट के अलावा इलाके के कई मौजिज लोगों द्वारा की गई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।