नूह में हिंदू – मुस्लिम के भाईचारे का दुष्प्रचार करने वाले चैनलों के संपादकों के पुतले जलाए
June 13th, 2020 | Post by :- | 57 Views

नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  हरियाणा के मुस्लिम बाहुल्य जिला नूह में हिंदू – मुस्लिम एकता के खिलाफ दुष्प्रचार करने वाले चैनल के संपादकों के खिलाफ मेवात के लोगों का गुस्सा भड़क गया है। शुक्रवार को पुनहाना में प्रदर्शन के बाद शनिवार को जिला मुख्यालय नूह शहर में हिंदू – मुस्लिम समुदाय के लोग दर्जनों की संख्या में गांधी पार्क नूह में एकत्रित हुए और दो राष्ट्रीय न्यूज़ चैनलों के संपादकों के पुतले जलाकर अपना विरोध दर्ज कराया। इसके बाद दोनों समुदाय के लोग गांधी पार्क नूह से तकरीबन 1 किलोमीटर दूर पैदल चलकर पोस्टर व बैनर हाथों में बैनर लेकर जिन पर अमन व भाईचारे के स्लोगन लिखे हुए थे , लघु सचिवालय पहुंचे । लघु सचिवालय नूह में पहुंचकर दोनों समुदाय के लोगों ने डीसी नूह के मार्फत मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में दोनों समुदाय के लोगों ने नूह जिले की गंगा – जमुनी तहजीब को खराब करने वाले मीडिया घरानों के संपादकों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की । पत्रकारों से बातचीत के दौरान समय सिंह एडवोकेट , मुफ्ती सलीम तथा सैनी इत्यादि लोगों ने कहा कि मेवात का भाईचारा सदियों से चला आ रहा है। यहां हिंदुओं को किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है , ना तो उनका धर्म परिवर्तन कराया जाता है और ना ही यहां दलितों के साथ अत्याचार होता है । यहां हिंदू – मुस्लिम एक दूसरे के दुख – सुख में सदियों से शरीक होते आए हैं ।यहां से जो लोग शहरों के लिए गए हैं , वह अपनी मर्जी से गए हैं तथा अपना विकास करने के लिए गए हैं । मीडिया में जो 103 गांवों से हिंदुओं के पलायन की खबरें दिखाई जा रही हैं , इनमें कोई सच्चाई नहीं है। कुल मिलाकर हिंदू – मुस्लिम समाज के लोग मीडिया में दिखाई जा रही बेबुनियाद व झूठी खबरों से बेहद आहत हैं । इन खबरों की वजह से लोग न केवल सड़क पर उतरकर ऐसे संपादकों के खिलाफ अपना गुस्सा दर्ज करा रहे हैं , बल्कि ऐसे गलत समाचार दिखाने वाले संपादकों को कानूनी कार्रवाई का सामना भी करना पड़ सकता है । कुल मिलाकर एक तरफ जहां कुछ लोग मेवात के भाईचारे को बिगाड़ने की साजिश मीडिया के माध्यम से कर रहे हैं , वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग दीवार बनकर खड़े हो गए हैं और साफ – साफ कह रहे हैं कि ऐसे शरारती तत्वों को  भाईचारे को बिगाड़ने में कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। सरकार को भी ऐसे नापाक मंसूबे रखने वाले लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए , तभी जाकर ऐसे लोगों पर लगाम लग सकती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।