उपायुक्त की अध्यक्षता में किया गया जिला स्तरीय मलेरिया वर्किंग कमेटी की बैठक का आयोजन|
June 9th, 2020 | Post by :- | 25 Views

बैठक में मच्छरों को पनपने से रोकने के लिए दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देश,

पानी ठहरेगा जहां, मच्छर पैदा होगा वहां |

पलवल हसनपुर (मुकेश वशिष्ट) 09 जून :- उपायुक्त नरेश नरवाल ने लघु सचिवालय के सभागार में स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित जिला स्तरीय मलेरिया वर्किंग कमेटी की बैठक की अध्यक्षता करते हुए बैठक में उपस्थित संबंधित विभागों के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग को एक कंट्रोल रूम स्थापित करने एस.ओ.पी. तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सभी शहरी क्षेत्रों में मलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम में सफाई व मशीनों द्वारा फॉगिंग करवाना सुनिश्चित करें तथा पंचायत विभाग गांवों में नाले-नालियों की साफ-सफाई व गड्ढों को भरवाए जहां पानी खड़ा होता है ताकि मच्छरों के पनपने को रोका जा सके।

इसके साथ-साथ मलेरिया से संबंधित कार्यक्रमों में ग्रामीणों में जागरूकता उत्पन्न की जाए। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से कहा कि सडक़े किनारे व सडक़ पर पानी एकत्रित होने वाले गड्ढो की मरम्मत व भरवाना सुनिश्ति करें ताकि दुर्घटनाओं से बचा जा सके।  उन्होंने हरियाणा रोडवेज विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे खुले में पड़े टायरों को ठीक प्रकार से कवर करें ताकि उन में पानी जमा न होने पाए और मच्छरों का लार्वा पैदा ना होने पाए। उपायुक्त ने महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे संबंधित क्षेत्रों के सभी घरों में जाकर मलेरिया के निवारण एवं नियंत्रण उपायों के बारे में जनता को जागरूक करें।

उन्होंने उपस्थिति को निर्देश दिए कि वे भवनों की छतों पर कबाड़ और कूड़ा  इकठ्ठा न होने दे इस पर विशेष ध्यान रखें। पूरी बाजू के कपड़े पहने, टायर, मटका और अन्य कबाड़ के सामान में पानी खड़ा ना होने दें। अपने आस-पास कूड़ा गंदगी व पानी इकठ्ठा न होने दे। अपने घरों के आस-पास पानी खड़ा ना होने दें, पानी ठहरेगा जहां मच्छर पैदा होगा के बारे में जागरूकता उत्पन्न करें। शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि वे विद्यालयों के भवनों की छतों साफ करवाए तथा अनावश्यक गढढों में भरवाना सुनिश्चित करे ताकि बरसात के मौसम में पानी एकत्रित न हो सके।

इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ ब्रहमदत  ने  विस्तार पूर्वक जानकारी दी और बताया कि स्वास्थ्य विभाग की सक्रियता व स्वच्छता के कारण ही जिला में मलेरिया की रोकथाम के लिए आवश्यक कदम उठाए गए है।  सिविल सर्जन ने मलेरिया के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों से पूर्ण सहयोग करने का आह्वïन किया।

बैठक में पलवल के एसडीएम कंवर सिंह, उप-सिविल सर्जन डा. रेखा सिंह, डा. दिनेश मलिक, नोडल अधिकारी मलेरिया डा. खडेलवाल, डॉ. मनजीत ,डा. बातिश,एआईएमए के डा. रितेष, कार्यकारी अभियंता लोक निर्माण विभाग नरेन्द्र सिंह यादव,जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी अनिल शर्मा, आयुष विभाग के डा. इरफान,नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी हरदीप सिंह, खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी उपमा सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।