बठिंडा शहर में लगे वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर हर रोज़ उड़ रही माननीय जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों की धज्जियाँ
June 9th, 2020 | Post by :- | 54 Views

बठिंडा ( बाल कृष्ण शर्मा ) भटिण्डा में लगे वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर हर रोज़ माननीय जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों की धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं। हर रोज़ सुबह और शाम के समय बठिंडा शहर में लगे 50 के लगभग वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर हज़ारों लोग पानी भरने आते हैं। वाटर आर.ओ. प्लांट् के बाहर कही भी कोई सर्कल या मार्क नहीं लगाये गये हैं जिससे कि लोग सामाजिक दूरी रख कर पानी भर सके अगर किसी के मुँह पर मास्क नहीं लगा है या मुँह को कवर नहीं किया हुया है तो उसको भी बिना किसी रोक-टोक के पानी भरने दिया जाता है। वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर मौजूद ऑपरेटर को भी कई बार कहा है कि आप लोगों से सामाजिक दूरी बना कर रखने और पानी भरने आते समय मास्क लगा कर या मुँह को कवर करके आने के लिये क्यों नहीं कहते तो ऑपरेटर का एक ही जवाब होता है कि मैंने तो बहुत बोला है मगर कोई सुनता ही नहीं है। यहाँ पंजाब सरकार इस करोना जैसे महामारी को फैलने से रोकने के लिये चौबीस घंटे काम कर रही है ऐसे में सरेआम वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर हर रोज़ माननीय जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों की धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं।

क्या माननीय जिला मजिस्ट्रेट के आदेश वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर लागू नहीं होते या इन्हें लोगों की सेहत का कोई ध्यान नहीं है, क्या कोई ऐसा सिस्टम लगाया गया है कि करोना वायरस वाटर आर.ओ. प्लांट्स के आस-पास आ ही नहीं सकता या सिर्फ पैसे कमाने तक ही मतलब है कॉन्ट्रैक्टर्स को ।

कई वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर आदेशों की पालना करना और करवाना तो दूर कही पर लिख कर भी नहीं लगाया गया है कि मास्क लगाना और सामाजिक दूरी बना कर रखना जरुरी है।

इस सम्बन्धी शिकायत मानयोग मुख्यमंत्री पंजाब, डायरेक्टर लोकल गवर्नमेंट चंडीगढ़, मानयोग डिप्टी कमिश्नर बठिंडा और कमिश्नर नगर निगम बठिंडा जी को भेज कर कांट्रेक्टर पर बनती कार्वाई करने का लिखा गया है।

इसकी शिकायतें भारत के स्वास्थ्य मंत्री, पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री, माननीय प्रधान मंत्री जी, माननीय मुख्यमंत्री पंजाब, डायरेक्टर-सेहत विभाग चंडीगढ़,
सचिव-सेहत विभाग चंडीगढ़, सिविल सर्जन बठिंडा, मानयोग डिप्टी कमिश्नर बठिंडा और कमिश्नर-नगर निगम बठिंडा जी को भेज कर कांट्रेक्टरस पर बनती कारवाई करने और बिना देरी किये उच्चित कदम उठाने को लिखा गया है।

एक तरफ जिला प्रशासन द्वारा माननीय जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों को सख्ती से लागू करवाने के लिये दिन रात एक कर रखा है और मास्क ना पहनने वालों से (500 रूपये) और सामाजिक दूरी ना बना कर रखने वाले लोगों से (2000 रूपये) जुर्माना बसूला जा रहा है जुर्माना नहीं भरने पर उस के विरुद्ध महामारी बीमारी एक्ट 1987 के नियमों अनुसार आई.पी.सी. की धारा 188 के तहत क़ानूनी कारवाई की जा सकती है। दूसरी तरफ हज़ारों लोग प्रतिदिन इन वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर से पानी भरने आते हैं यहाँ पर सामाजिक दूरी की और मास्क लगाने के आदेशों की पालना नहीं की जा रही है पिछले काफी समय से। प्रशासन और नगर निगम बठिंडा के अधिकारी/ऑफिसर्स भी इस और कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं क्योंकि सामाजिक दूरी ना बना कर रखना और बिना मास्क के पानी भरने आना लोगों की सेहत पर भारी पड़ सकता है अगर कोई ऐसी-वैसी बात हो जाती है तो कौन जुम्मेवार होगा, जिला प्रशासन, नगर निगम या वाटर आर.ओ. प्लांट्स के कॉन्ट्रैक्टर्स।

वाटर आर.ओ. प्लांट्स के एग्रीमेंट के अनुसार लोगों को हर समय Potable Water देने का लिखा गया है मगर वाटर आर.ओ. प्लांट्स पर पानी की टेस्टिंग की कोई भी रिपोर्ट आज तक डिस्प्ले नहीं की गयी है जिससे कि लोगों को यह पता चल सके कि लोगों द्वारा जो पानी पीने के लिये भरा जा रहा वो Potable Water है भी या नहीं है। इस की भी जाँच की जाये कि लोगों की किस तरह का पानी पीने के लिये दिया जा रहा है।

मेरी बठिंडा प्रशासन से बेनती है कि करोना जैसे महामारी को ध्यान में रखते हुये वाटर आर.ओ. प्लांट्स के कॉन्ट्रैक्टर्स पर माननीय जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों का पालन ना करने पर सख्त से सख्त बनती कारवाई की जाये और बिना देरी किये आर.ओ. प्लांट्स पर भी माननीय जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों का सख्ती से पालन करवाया जाये जिससे कि करोना जैसी महामारी को फैलने से बचाया जा सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।