समाजसेवी मनीष दयाल की माताजी वरिष्ठ समाज सेविका जौयस दयाल को दी गई भावभीनी श्रद्धांजलि
June 8th, 2020 | Post by :- | 111 Views

मथुरा,(राजकुमार गुप्ता) आज ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जनजागरूकता समिति रजिस्टर्ड उत्तर प्रदेश के द्वारा मिशन कंपाउंड कृष्णा पुरी में मथुरा की वरिष्ठ समाज सेविका जौयस दयाल की अचानक परलोक सुधारने पर शोक सभा आयोजित की गई l शोक सभा के माध्यम से श्रीमती जौयस दयाल के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उन्हें याद करते हुए वक्ताओं ने शोक सभा को संबोधित करते हुए कहा एक ऐसी महिला थी जिन्होंने अपना पूरा जीवन गरीब मजलूम ,बेसहारा, विधवा महिलाओं और बालिकाओं के लिए समर्पित किया l प्रदेश अध्यक्ष विनोद दीक्षित ने कहा दयाल परिवार पूरे मथुरा में गंगा यमुना तहजीब को अकेले ही जिंदा रखे हुए था l उनकी कार्यशैली के कारण उनके परिवार के साथ में हर धर्म के लोग उनके साथ जुड़े हुए थे उसी के माध्यम से समाज के लिए एक प्रेरणा स्वरूप कार्य किए जाते रहे हैं उनके पुत्र के रूप में आज हमारी टीम में मनीष दयाल समाज के लिए उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं इस दुख की घड़ी में प्रभु पूरे परिवार को धैर्य प्रदान करें l महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष व नगर निगम वार्ड नंबर 66 की पार्षद श्रीमती श्वेता शर्मा ने कहा श्रीमती जौयस दयाल एक सरकारी शिक्षिका रहते हुए अपने परिवार की जिम्मेदारियों को निभाते हुए पिछले 25 सालों से शोषित महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए काम कर रही थी l यह हम जैसी महिलाओं के लिए गौरव की बात है l हम उन्हें हमेशा अपने आदर्श के रूप में याद करते रहेंगे l शोक सभा के अंत में 2 मिनट का मौन रखकर सभी लोगों ने अपनी श्रद्धांजलि दी l शोक सभा में मनोज शर्मा ,भागवताचार्य लक्ष्मी कांत शास्त्री ,मुकेश शर्मा अर्जुन पंडित, विनोद पांडे , हेमंत अग्रवाल ,बृजमोहन गुप्ता तपेश भारद्वाज ,अंशुल अग्रवाल ,संजीव अग्रवाल ,अमित पचौरी ,हरीश शर्मा योगेश यादव , अशोक तिवारी ,श्रीमती रूपा दास श्रीमती आभा दयाल उपस्थित रहे l फोटो परिचय : श्रीमती जौयस दयाल को ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जनजागरूकता समिति के प्रदेश अध्यक्ष विनोद दीक्षित भागवताचार्य लक्ष्मी कांत शास्त्री पार्षद श्रीमती श्वेता शर्मा अन्य श्रद्धांजलि देते हुए

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।