शिवसेना प्रत्याशी का नामांकन रदद्, लोक सेवक के रूप में भ्रष्टाचार के लगे थे आरोप
September 6th, 2019 | Post by :- | 233 Views

 

छत्तीसगढ़ (दन्तेवाड़ा) । भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत दोष सिध्द पाए जाने के कारण दन्तेवाडा रिटर्निंग अधिकारी ने उपचुनाव हेतु शिवसेना के अधिकृत प्रत्याशी का नामांकन रदद् कर दिया है।

आपको बता देकि “भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम” के अंतर्गत 1 वर्ष की सश्रम कारावास व 5 हज़ार रुपये के अर्थदण्ड एवं धारा 13 (1) बी व धारा 13 (2) भ्रष्टाचार निवारण के अंतर्गत 3 वर्ष के सश्रम कारावास व 5 हज़ार रुपये के अर्थदण्ड से दण्डित करने के दोष सिद्ध के कारण दंतेवाड़ा निर्वाचन के रिटर्निंग अधिकारी ने शिवसेना के प्रत्याशी जयराम कश्यप का नामांकन रदद् कर दिया गया है।

उच्च न्यायालय ने इस दोषसिद्धि के ख़िलाफ़ दायर याचिका ओर निर्णय लेते हुए जयराम कश्यप के 3 वर्ष + 1 वर्ष के सश्रम कारावास की सज़ा में शिथिलता दिखाते हुए केवल अर्थदंड की सज़ा पर फ़ैसला सुरक्षित रखा था।

हालांकि जयराम कश्यप ने उक्त आदेश के ख़िलाफ़ सर्वोच्च न्यायालय में अपील किया हुआ है।

शिवसेना के प्रदेश प्रमुख धनजंय परिहार ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते अपने आधिकारिक शोसल मीडिया अकाउंट में लिखा हैकि सर्वोच्च न्यायालय में लंबित प्रकरण पर दोषसिध्द दिखाकर प्रत्याशी का नामांकन रदद् करना असंवैधानिक है, इस हेतु न्यायालय में अपील किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।