बाढ़ प्रबंधन की दिशा में किए जाने वाले सभी कार्य हो 20 जून तक मुकम्मल : मुख्यमंत्री मनोहर लाल
June 4th, 2020 | Post by :- | 135 Views

कैथल, लोकहित एक्सप्रैस, (ब्यूरो चीफ विशाल चौधरी ) ।: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरूवार को प्रदेश के उपायुक्तों के साथ विडियो कॉन्फ्रैंसिंग कर बाढ़ बचाव कार्यों व ड्रेनो की सफाई जैसे महत्वपूर्ण विषयों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि बाढ़ प्रबंधन की दिशा में जितने भी कार्य चल रहे हैं वे सभी 20 जून तक पूरे हो जाने चाहिए। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार मानसून प्रदेश में समय से पहले दस्तक दे सकता है।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि जो भी कार्य शुरू हो चुके हैं, उन्हें प्राथमिकता के आधार पर पूरा करें। बाढ़ संभावित क्षेत्रों में उन्हें प्राथमिकता दें। जिन क्षेत्रो में बाढ़ से आबादी के प्रभावित होने की सम्भावना हो, उन्हें पहले पूरे कर लें। इसके साथ-साथ मानसून के दिनो में पानी निकासी के लिए पम्पो की उपलब्धता व उनकी वर्किंग कंडीशन को चैक कर लिया जाए, इन्हें चलाने के लिए जहां-जहां बिजली के कनैक्शन अपेक्षित हैं, उन्हें भी सुनिश्चित कर लें। डीजल से चलने वाले पम्पो की भी चैकिंग कर लें। मानूसन में पावर सप्लाई भी अपेक्षाकृत बनी रहे, इसका भी ध्यान रखें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नहरों के किनारे यदि कोई पेड़ अंदर की साईड है, उसका वन विभाग से कोई लेना-देना नही है। भारी जल प्रवाह से कई बार ऐसे पेड़ गिर जाते हैं और किनारों को ब्रीच कर देते हैं। ऐसे पेड़ों को काटा जा सकता है, ताकि उनसे बचाव हो सके। उन्होंने बताया कि भूमिगत जल को रिचार्ज करने के लिए कृषि विभाग की खेतो में बोर करने की स्कीम है। कई क्षेत्रो में अत्याधिक बारिश से प्राकृतिक रूप से पानी बहकर खेतो को लबालब कर देता है, परिणाम स्वरूप फसलें नष्टï हो जाती हैं। इसके उपाय के लिए खेतो में बोर कर, ऐसे सरप्लस पानी को बोर से रिचार्ज किया जा सकता है, यह अच्छी स्कीम है। बीते वर्ष करनाल सहित कई जगहों पर इस पर अच्छा काम हुआ है। किसानो ने अपनी फसलें बर्बाद होने से बचाई हैं। ऐसी जगहों के किसानो को मोटीवेट कर बताया जाए कि कम खर्च पर रेत की सतह तक बोर किए जा सकते हैं।
वीसी में उपायुक्त सुजान सिंह ने मुख्यमंत्री को बताया कि इस जिला में बाढ़ से बचाव के सभी कार्य सुचारू रूप से चल रहे हैं। गुहला में घग्घर नदी के नजदीक बाढ़ संभावित क्षेत्रों में स्टोन स्टड, स्टोन पिचिंग, अंडर पाईप लाईन आदि कार्य चल रहे हैं, जिन्हें समयबद्ध पूरा किया जाएगा। इसके साथ-साथ शहर में अतिरिक्त बरसाती पानी की निकासी के लिए पंपिंग हाऊस बनाए जा रहे हैं, उन्हें भी जल्द पूरा कर लिया जाएगा। सभी डीजल पंप दुरूस्त करवा दिए गए हैं। इस मौके पर उपमंडलाधीश कमलप्रीत कौर, अधीक्षक अभियंता राकेश सूद, देवी लाल, बीएस रंगा, कार्यकारी अभियंता बनारसी दास, प्रशांत, कुलदीप सिंह, कर्णबीर सिंह, डीडीपीओ जसविंद्र सिंह, डीआरओ  सुरेश कुमार, ईओ अशोक कुमार के अलावा अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।