2021 मानव समाज के लिए नई आशा ले कर आएगा-पंडित अरुण सती।
June 4th, 2020 | Post by :- | 171 Views

अम्बाला(अशोक शर्मा) कॅरोना के द्वारा लंबे चलते लॉक डाउन के बाद धीरे सब कुछ आंशिक रूप से खुलता जा रहा। देश की सरकार व राज्य सरकारें शर्तों के साथ जीवन को गतिशील बनाने में प्रयासरत हैं। देश मे धार्मिक स्थल बड़ी एतिहात के साथ खोलने होंगे। इन्ही स्थानों में भावनाओं में डूबे लोग कॅरोना से सुरक्षित उपायों की अनदेखी कर बैठते हैं। छावनी के राधा कृष्ण मंदिर रेस कोर्स अजित नगर व सनातन धर्म मंदिर ने सुरक्षित तरीके अपना लिए है। मंदिर के मुख्य प्रांगण में आते ही भक्त सब से पहले मंदिर घंटी बजाते है जिस को सभी लोग छूते है, इस लिए मंदिर की मुख्य घंटी को वस्त्र से ढक दिया गया है। पूजा के समय की भी मूर्ति को न छुना, तिलक न लगना प्रसाद का न बाटना जैसे सभी उपाय को अपना लिया है।
पंडित अरुण सती का कहना है इस वर्ष मांगलिक कार्य के मुहर्त भी कम हैं। जून में 8 महूर्त है इस के बाद नवंबर में 3 व दिसंबर में 5 शुभ महूर्त का योग है। उनोने आशा व्यक्त की है कि 2021 मानव समाज के लिए नई आशा ले कर आएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।