आवासन मण्डल का बडा तोहफा: कर्मचारियों के लिए लॉंच होने वाली मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना के तहत जयपुर के प्रताप नगर में बनेंगे 2 व 3 बीएचके साइज के 624 फलैट्स
June 3rd, 2020 | Post by :- | 69 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि मंडल द्वारा प्रदेश के कर्मचारियों और आमजन को बड़ा तोहफा देते हुए जयपुर के प्रताप नगर में मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना और प्रदेश के 11 शहरों में 17 आवासीय योजनाएं लॉंच करने का निर्णय लिया है। इन योजनाओं की लॉंचिंग एक माह के भीतर मुख्यमंत्री के स्तर पर करवाई जायेगी। आयुक्त अरोड़ा ने बताया कि कोरोना संक्रमण के इस दौर में प्रत्येक व्यक्ति का सपना है कि उसका अपना घर हो। उनके इस सपने को साकार करने के लिए मंडल द्वारा प्रत्येक वर्ग की जरूरतों के हिसाब से उचित कीमत पर आवासीय योजना तैयार की गई हैं।
*जयपुर के प्रताप नगर में लॉंच होगी मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना:
आवासन आयुक्त अरोड़ा ने बताया कि कर्मचारियों को उचित कीमत पर आवास उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जयपुर के प्रताप नगर स्थित सेक्टर 26 में मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना लॉंच की जाएगी। इस योजना में प्रत्येक स्तर के कर्मचारियों की आवश्यकतानुसार कुल 674 फ्लैट्स निर्मित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इस योजना में 10 लाख 90 हजार रुपये में 632 वर्गफीट में निर्मित 2 बीचएचके फ्लैट, 15 लाख 70 हजार रुपये में 882 वर्गफीट क्षेत्र में निर्मित 2 बीचएचके फ्लैट और 21 लाख रुपये में 1097 वर्ग फीट में निर्मित 3 बीचएचके फ्लैट उपलब्ध कराए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि इस योजना में पूर्व में लॉंच की गई मुख्यमंत्री राज्य सहायक कर्मचारी योजना के आवदेकों को भी शामिल किया जाएगा। आवासन आयुक्त ने बताया कि इस योजना में सभी मूलभूत सुविधाएं विकसित करने के साथ गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाएगा। यहां कर्मचारियों के परिवारों को रहने के लिए अच्छा माहौल मिलेगा। इस योजना के आस-पास स्कूल, कॉलेज,अस्पताल जैसी सुविधाए पहले से ही उपलब्ध हैं। उल्लेखनीय है कि मंडल द्वारा इससे पूर्व शिक्षकों और कॉन्स्टेबलों के लिए मुख्यमंत्री शिक्षक एवं प्रहरी आवासीय योजना को लॉंच किया गया था, जिसमें 576 फ्लैटों के विरूद्ध 700 से अधिक आवेदकों ने पंजीकरण कराया है।
*मंडल प्रदेश के 11 शहरों में लॉंच करेगा 17 आवासीय योजनाएं:
*सभी श्रेणी के कुल 11 हजार 250 आवास होंगे उपलब्ध:
आवासन आयुक्त अरोड़ा ने बताया कि आमजन के घर की जरूरतों को देखते हुए मंडल द्वारा 11 शहरों में 17 आवासीय योजनाएं लॉंच की जाएंगी। यह योजनाएं जयपुर के सिरोली, वाटिका, महला, शाहपुरा, उदयपुर के दक्षिण विस्तार एवं देवारी, श्रीगंगानगर के सूरतगढ़, टोंक के निवाई, सिरोही के आबूरोड़, अजमेर के नसीराबाद, किशनगढ़, डूंगरपुर और बांसवाड़ा में लॉंच होंगी। इन योजनाओं में आर्थिक दृष्टि से कमजोर आय वर्ग, अल्प आय वर्ग, मध्यम आय वर्ग-अ, मध्यम आय वर्ग-ब व उच्च आय वर्ग के लिए कुल 11 हजार 250 आवास उपलब्ध होंगे। उन्होंने बताया कि इन योजनाओं में प्रधानमंत्री आवास योजना और मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत देय लाभ भी प्रदान किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि राजस्थान आवासन मंडल के 50 वर्ष के इतिहास में इतनी योजनाएं एक साथ कभी भी लांच नहीं की गई हैं। उन्होंने बताया कि मंडल द्वारा आगामी बोर्ड बैठक में इन योजनाओं को अनुमोदन करवाकर शीघ्र लांच किया जाएगा। इन आवासीय योजनाओं के माध्यम से आम लोगों को उचित कीमत पर आवास उपलब्ध हो सकेंगे।
*10 प्रतिशत दीजिये गृह प्रवेश कीजिये योजना में किश्तों पर नहीं लगेगा जीएसटी:
आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि 10 प्रतिशत दीजिये गृह प्रवेश कीजिये योजना में किश्तोें पर जीएसटी लगने के संबंध में भ्रम की स्थिति थी। आयुक्त ने स्पष्ट किया की इस संबंध में जीएसटी विशेषज्ञों से चर्चा कर ली गई है, यह चूंकि पूर्ण निर्मित मकान है इसलिये जीएसटी न तो किश्तों पर और न ही ईएमडी पर लगेगा, अब यह मकान आमजन को और भी सस्ते उपलब्ध होंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।