वृन्दावन पुलिस द्वारा हत्या के साक्ष्य मिटाने में वांछित तीन अभियुक्तो को गिरफ्तार कर भेजा जेल
June 2nd, 2020 | Post by :- | 98 Views

वृंदावन,मथुरा(राजकुमार गुप्ता) दिनांक 02.06.2020 को श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मथुरा महोदय के द्वारा वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस अधीक्षक नगर महोदय मथुरा के निर्देशन में एवं क्षेत्राधिकारी सदर व प्रभारी निरीक्षक थाना वृन्दावन के निकट पर्यवेक्षण में थाना वृन्दावन पुलिस द्वारा मु0अ0सं0 937/19 धारा 302/201 भादवि में हत्या के साक्ष्य मिटाने में वांछित अभियुक्त कृष्ण मुरारी शर्मा पुत्र हरीकृष्ण नि0 ग्राम विचकपुर तहसील डबरा थाना भितरवार जिला ग्वालियर मध्यप्रदेश हाल नि0 अजय सारस्वत का मकान म0न0 52 गौतमपाडा बांके बिहारी के पास थाना वृन्दावन जिला मथुरा को मुखबिर की सूचना पर दि0 02.06.20 समय करीब 08:10 बजे छटीकरा पुल के पास से गिरफ्तार किया गया ।

दिनांक 12.10.2019 को श्री मान सिंह पुत्र श्री नत्थी ठाकुर निवासी जहांगीरपुर थाना मांट जिला मथुरा की लिखित तहरीर के आधार पर मु0अ0सं0 937/19 धारा 302/394 भादवि पंजीकृत किया गया । विवेचना से धारा 394 भादवि का लोप किया गया तथा धारा 201 भादवि की वृद्धि की गई । मुकद्दमा उपरोक्त में वांछित अभियुक्तगण *1. श्रीमती मनीषा पत्नी गब्बर सिंह निवासी डींग थाना डींग जिला भरतपुर 2. देशराज पुत्र केशव सिंह निवासी किरायेदार पप्पू साईकिल वाले के मकान में किरायेदार मस्जिद वाली गली गौरानगर वृन्दावन थाना वृन्दावन जिला मथुरा 3. अजय सारस्वत पुत्र स्व0 डम्वर प्रसाद निवासी म0नं0 52 गौतमपाडा वृन्दावन थाना वृन्दावन जिला मथुरा को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है ।

गिरफ्तार अभियुक्त का नाम पता
कृष्ण मुरारी शर्मा पुत्र हरीकृष्ण नि0 ग्राम विचकपुर तहसील डबरा थाना भितरवार जिला ग्वालियर मध्यप्रदेश हाल नि0 अजय सारस्वत का मकान म0न0 52 गौतमपाडा बांके बिहारी के पास थाना वृन्दावन जिला मथुरा

गिरफ्तार करने वाली टीम
1. प्र0नि0 संजीव कुमार थाना वृन्दावन जनपद मथुरा
2. उ0नि0 श्री अमित कुमार थाना वृन्दावन जनपद मथुरा
3. का0 1950 होराम सिंह थाना वृन्दावन जनपद मथुरा

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।