विधायक सर्राफ और उसकी बेटी के दोबारा सेंपल रिपोर्ट आई नेगेटिव : सिविल सर्जन
June 1st, 2020 | Post by :- | 117 Views

भिवानी, 01 जून संवाद सहयोगी ममता गौड़। जिला भिवानी में सोमवार को कोविड-19 संक्रमण के पांच नए मामले सामने आए हैं। इनमें तीन मामले गांव नाथुवास से हैं। एक केस गांव तिगड़ाना से तथा एक गांव मालपोष से है। अब भिवानी में कुल 23 कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति आईसोलेशन वार्ड में हैं। सात व्यक्तियों को होम क्वारंटाईन के लिए घर भेज दिया गया है। आईसोलेशन वार्ड में भर्ती तिगड़ाना निवासी 48 वर्षीय महिला कोरोना संक्रमित की रिपोर्ट नेगेटिव आने उपरान्त उसे भी होम क्वारंटाईन के लिए भेज दिया गया है।
जिले में सोमवार को गांव चांग, तिगड़ाना, रिवाड़ी खेड़ा, नाथुवास, सिरसा घोघड़ा, बामला, भिवानी शहर में बाग कोठी व हालुवास गेट क्षेत्र में कुल 7501 घरों के 39 हजार 284 व्यक्तियों की स्क्रीनिगं की गई। समाचार लिखे जाने तक सोमवार को जिले से 240 सैम्पल लिए गए।

सिविल सर्जन डॉ. जितेन्द्र काद्यान ने बताया कि जिले में सोमवार को पांच नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें से तीन केस गांव नाथुवास से है। एक गांव व्यक्ति गांव तिगड़ाना से तथा एक गांव मालपोष से है।

सिविल सर्जन ने बताया कि नगर विधायक घनश्याम दास सर्राफ व उसकी बेटी का स्वास्थ्य विभाग ने दोबारा सेंपल लेकर जांच के लिए रोहतक भेजा था, जिनकी रिपोर्ट नेगेेटिव आई है। वहीं दूसरी ओर आईसोलेशन वार्ड में भर्ती तिगड़ाना निवासी 48 वर्षीय महिला की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है और उसे होम क्वारंटाईन के लिए भेज दिया गया है।

उन्होंने बताया कि गांव नाथुवास निवासी कोरोना संक्रमित जो कि सामान्य हस्पताल में आईसोलेशन वार्ड में है, उसी के परिवार के तीन कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आई है, जिसमें से एक उसकी मां, उसकी पत्नि तथा उसकी भतीजी है। वहीं गांव तिगड़ाना से मिला कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति, जो कि गुरूग्राम में खांडसा सब्जी मंडी मे आढ़ती के पास काम करता है, यह 29 मई को गुरूग्राम से भिवानी आया था। उनको तीन दिन से बुखार था। उन्होंने उसी दिन सामान्य हस्पताल भिवानी में पहुंचकर अपना टैस्ट करवाया था। टैस्ट में उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। इसी प्रकार से गांव मालपोष निवासी जो कि नागरिक हस्पताल भिवानी में वार्ड सर्वेन्ट के पद पर कार्य करता है। सभी पांचों कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को आईसोलेशन वार्ड में दाखिल किया गया है, जहां पर उनका उपचार किया जा रहा है।

सोमवार को जिला में 39 हजार 284 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग

सिविल सर्जन ने बताया कि सोमवार को जिले में कुल 7501 घरों के 39 हजार 284 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। स्थानीय हालुवास गेट क्षेत्र के 860 घरों के 4730 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। गांव रिवाड़ी खेड़ा के 739 घरों के 3830 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। गांव चांग के 2494 घरों के 12 हजार 826 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। गांव नाथुवास के 505 घरों के 2701 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। इसी प्रकार से गांव तिगड़ाना के 1310 घरों के 6617 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। शहर में बाग कोठी एरिया के 603 घरों के 3219 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। गांव सिरसा घोघड़ा से 464 घरों के 2549 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई तथा गांव बामला से 526 घरों के 2812 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई।

नन्हे बच्चों से लेकर बुजुर्गों की तक की स्क्रीनिंग

वहीं सिविल सर्जन ने बताया कि विभाग की टीम द्वारा नन्हे बच्चों से लेकर बुजुर्गों यानि सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है।
वहीं सिविल सर्जन ने बताया कि खबर लिखे जाने तक सोमवार को विभाग द्वारा लगभग 240 सैम्पल लिए जा चुके है। वहीं आईसोलेशन वार्ड में 23 व्यक्तियों को रखा गया है। रविवार तक भेजे गए सैम्पलों में से 197 सैम्पल की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।