मोदी मंत्रिमंडल की बैठक में अहम फैसले, किसान गरीब को लेकर किया बड़ा ऐलान
June 1st, 2020 | Post by :- | 99 Views

 

 

सिवानी मंडी : सतीश खतरी

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल पूरा होने के बाद सोमवार को मंत्रिमंडल की अहम बैठक हुई। बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि MSME की परिभाषा को और संशोधित किया गया है। संकट में फंसे MSME को मदद दी जाएगी।

जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि आज PM की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रीमंडल की बैठक हुई, दूसरे कार्यकाल के एक साल पूरे होने के बाद यह पहली कैबिनेट बैठक थी, जिसमें कई ऐतिहासिक फैसले लिए गए। इससे किसानों, MSMEs और रेहड़ी पटरी वालों पर एक परिवर्तनकारी प्रभाव पड़ेगा।

जावड़ेकर ने बताया कि शहरी और आवास मंत्रालय ने विशेष सूक्ष्म ऋण योजना शुरू की है। रेहड़ी-पटरी वालों की मदद के लिए बनाई गई योजना से 50 लाख लोगों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि शायद आजाद भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के रेहड़ी-पटरी वालों को लोन देने के लिए कोई योजना लाई गई है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार ने किसानों के लिए बड़े फैसले किए हैं। न्यूनतम समर्थन मूल्य उसकी कुल लागत का डेढ़ गुना ज्यादा रखने का वादा सरकार पूरा कर रही है। 14 फसलों पर किसानों को लागत से 50 फीसदी से 83 फीसदी ज्यादा कीमत मिलेगी। खेती और उस जुड़े काम के लिए 3 लाख तक के अल्पकालिक कर्ज के भुगतान की तिथि 31 अगस्त 2020 तक बढ़ाई गई है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।