बरसात के बाद किसान ज्वार – बाजरा इत्यादि फसलों की बिजाई तथा खेतों की जुताई में लगा
May 31st, 2020 | Post by :- | 75 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  शुक्रवार को आई तेज बरसात के बाद से किसानों की हलचल बढ़ गई है । किसानों ने बाजारों का रुख किया और ज्वार / बाजरा इत्यादि बीज की दुकानों पर शनिवार को भारी भीड़ देखने को मिली । बरसात के बाद किसान ज्वार – बाजरा इत्यादि फसलों की बिजाई तथा खेतों की जुताई में लगा हुआ है । बरसात ने न केवल चिलचिलाती गर्मी से लोगों को बड़ी राहत देने का काम किया , बल्कि ज्वार – बाजरा जैसी फसलों के लिए बिजाई का समय उपयुक्त मानते हुए किसानों ने काम शुरू कर दिया है । पत्रकारों से बातचीत के दौरान किसानों ने कहा कि अच्छी बरसात हुई है ।जिससे ज्वार / बाजरा इत्यादि फसलों की बिजाई बड़ी आसानी से हो सकेगी । इसके लिए बाजारों में वह अच्छी किस्म के बीज खरीद रहे हैं , ताकि खेतों की बिजाई व जुताई की जा सके।
 आपको बता दें कि इन दिनों नूह जिले में ज्वार / बाजरे के बजाय बड़े पैमाने पर की जाती है । पशुओं के लिए हरा चारा बरसात के सीजन में जल्द से जल्द उपलब्ध हो सके , इसके लिए अगेती बिजाई पर किसान का फोकस होता है । इलाके में शुक्रवार हुई बरसात किसानों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है । किसान अपने काम में जुट गया है। खास बात यह है कि नूह जिले का किसान सिर्फ बरसात पर ज्वार / बाजरे की बिजाई के लिए पूरी तरह आधारित है। ट्यूबवेल का पानी गहरा / खारा है। नहरी पानी की इलाके में भारी कमी है। सही समय पर हुई बारिश से चारों तरफ रौनक देखने को मिल रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।