एआरटीओ ने दी बाईं अट्टारिया छोंछ खड्ड में दबिश , थम गए पंजाव के क्रेशरो से आने बाले ओवरलोड ट्रको के पहिए
May 29th, 2020 | Post by :- | 77 Views

गगन ललगोत्रा(व्यूरो इंदौरा

एआरटीओ ने दी बाईं अट्टारिया छोंछ खड्ड में दबिश , थम गए पंजाव के क्रेशरो से आने बाले ओवरलोड ट्रको के पहिए

रॉयल्टी पंजाब को दे रहे और सड़के हिमाचल की तोड़ रहे

उपमंडल इंदौरा के अंतर्गत पड़ते बाईं अट्टारिया उद्योगिक क्षेत्र के साथ लगती छोंछ खड्ड में कुछ पंजाब एरिया में पड़ते आधा दर्जन क्रुशर उद्योग के मालिक खड्ड में एक अस्थाई रास्ता बनाकर वर्षो से हिमाचल प्रशाशन को ठेंगा दिखाकर क्रेशर मटीरियल से भरे हुए अपने भारी भरकम बाहनों को पंजाब के रास्ते से न गुजारकर हिमाचल के कंदरोरी एरिया से गुजार रहे है और सड़कों को तोड़ रहे है । इस रास्ते से गुजर रहे इन बाहनों का हिमाचल के किसी भी बिभाग को कोई भी राजस्व प्राप्त नही हो रहा है और उल्टा यह पंजाब के क्रुशेरो से आने बाले बाहन हिमाचल की सड़कों को तोड़ रहे है। पंजाब एरिया लगे इन आधा दर्जन क्रैशर उद्योग से आने वाले भारी भरकम ओवरलोड मल्टीऐक्सल ट्रको के गुजरने की लगातार मिल रही शिकायतों पर आज ए आर टी ओ कंडबाल रमन कुमार ने अपनी टीम सहित देर शाम अस्थाई रास्ते के पास कंदरोरी में दबिश दी।
ए आर टी ओ के पहुँचने की खबर मिलते ही पंजाब के क्रेशर उद्योगो से आने वाले ट्रक हिमाचल की हद में घुसे ही नही ओर पंजाब की सीमा में खड़े होकर उनके बापिस जाने का इंतजार करते देखे और इस दौरान इन क्रेशर उद्योग बाले के खुफिया तंत्र भी मोटरसाइकिलो पर घूमते ओर पल पल की खवर उनके देते नजर आए।।ये पंजाब के क्षेत्र में लगे हुए क्रैशर रॉयल्टी पंजाब सरकार को देते हैं ओर हिमाचल सरकार को राजस्व का चूना लगा रहे है। ज्ञात रहे कि उक्त उद्योगिक क्षेत्र को जाने वाली सड़क को मोज़ुदा विधायक रीता धीमान द्वारा किए गए प्रयासों से यह सड़क अभी पाँच छः दिन पहले ही बनाई गई है। परन्तु यदि यह ओवर्लोड भारी भरकम मल्टीऐक्सल ट्राले इस सड़क को फिर से तोड़ रहे है। यह क्रेशर उद्योग फायदा पंजाब को दे रहे है और सड़के इंदौरा क्षेत्र की तोड़ रहे है और रोजाना शाम 3 बजे के बाद से देर रात तक सैकड़ो ट्रक इन क्रुशेरो से रेत बजरी लोड करके इस हिमाचल में बनाए गए अस्थाई रास्ते से होकर गुजरते है। कई बार खनन बिभाग ने इस रास्ते मे गड्ढे मारकर इसको अवरुद्ध भी किया पर यह खनन माफिया कुछ ही घण्टो में अपनी मशीनरी लगाकर रास्ते का निर्माण कर लेता है । अब देखना यह है के आखिर हिमाचल के प्रशशन इन गाड़ियों को हिमाचल में बनाए गए अस्थाई रास्ते से गुजरने पर आखिर क्या सख्त कार्यवाही अमल में लाता है।

इस संबंध में खनन अधिकारी नूरपूर नीरज कांत ने बताया के कल ही इस रास्ते को बन्द किया जा रहा है। अगर फिर भी कोई बनाता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी

इस संबंध में ए आर टी ओ कंडबाल से बात की गई तो उन्होंने कहा है इस अस्थाई रास्ते से पंजाब से आने बाले क्रेशर उद्योग के भारी भरकम बाहनों को बख्शा नही जाएगा और रोजाना इस क्षेत्र में नाका बंदी की जाएगी और जो भी बाहन इस रास्ते से आता हुआ पाया गया उसको जुर्माना किया जाएगा और बनती कार्यबाही भी की जाएगी

फोटो,, कंदरोडी छोंछ खड्ड में पंजाब क्रेशर मालिको द्वारा बनाए गए अस्थाई रास्ते से होकर पंजाब के क्रेशरो पर रेत बजरी लेने जाते पंजाब के ट्रक

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।