मास्क की आड में छिपे हो सकते है अपराधी : पुलिस महानिदेशक
May 29th, 2020 | Post by :- | 65 Views

चंडीगढ, ( महिन्द्र पाल सिंहमार )    ।  हरियाणा पुलिस ने ज्वैलर्स, बैंक, गोल्ड लोन कंपनियों के साथ-साथ अन्य प्रतिष्ठान जहां नकद लेनदेन अधिक होता है, को महत्वपूर्ण एडवाइजरी जारी करते हुए अनुरोध किया है कि वे इन परिसरों में आने वाले लोगों का मास्क एक बार सीसीटीवी कैमरा के सामने उतरवाना सुनिश्चित करे ताकि फेस कवर की आड में कोई असामाजिक व अपरधिक तत्व अपराध करने उपरांत बच न सके।

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) श्री मनोज यादव ने सभी जिला पुलिस प्रमुखों (सीपी और एसपी) को आदेश जारी करते हुए कहा कि वे इसं संबंध में दिशानिर्देश जारी कर अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में ज्वैलर्स / बैंक / गोल्ड फाइनेंस कंपनियों आदि को उनके परिसरों के प्रवेश द्वार पर इसे लगाने के लिए कहें।

डीजीपी ने बताया कि सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी को देखते हुए सरकारी और सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। अब, लॉकडाउन के धीरे-धीरे खुलने के साथ, मास्क पहनकर आपराधिक तत्वों द्वारा स्थिति का लाभ उठाने की संभावना है। न केवल आदतन अपराधी, बल्कि नए अपराधी चोरी / डकैती जैसी असामाजिक गतिविधियों में भी लिप्त हो सकते हैं। अगर कोई भी दुर्भाग्यपूर्ण घटना घटती है, तो सीसीटीवी कैमरों में कैद हुई तस्वीर की मदद से अपराधियों को पकड़ा जा सकता है।

इसके अलावा, उन्होंने लोगों को बाहर जाते समय बहुत अधिक नकदी साथ न लेकर चलने की भी सलाह दी है।
साथ ही, सभी ज्वैलर्स और अन्य प्रतिष्ठानों को सीसीटीवी कैमरे लगाने चाहिए क्योंकि असामाजिक तत्व या अपराधी की पहचान फेस कवर के कारण नहीं की जा सकती। जिन परिसरों में सीसीटीवी पहले से ही स्थापित हैं, उन्हें चलती अवस्था में रखना सुनिश्चित करे। जब भी आवश्यकता हो तो पुलिस कंट्रोल रूम नंबर 100 पर तुरंत पुलिस सहायता के लिए संपर्क करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।