प्रतिदिन की जा सकती है 5100 नमूनों की जांच– जांच करने की क्षमता को बढाया जा सकता है जरूरत अनुसार–जब कोरोना शुरू हुआ तब एक भी कोरोना टैस्टिगं मशीन नही थी प्रदेश में– नमूना जांच के लिए भेजना पडता था पुणे:- गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।
May 28th, 2020 | Post by :- | 64 Views

अम्बाला :- अशोक शर्मा:
हरियाणा प्रदेश में वर्तमान में कोरोना वायरस के टैस्टिंग के लिए 14 मशीने कार्य कर रही हैं। इन मशीनो से प्रतिदिन 5100 नमूनों की जांच की जा सकती है। जांच का कार्य जरूरत अनुसार बढ़ाया भी जा सकता है। यह जानकारी गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सैक्टर 10 अम्बाला शहर स्थित पोली क्लीनिक में आणविक लैब में सीबी नाट, ट्रयूनाट और आरटीपीसीआर कोरोना टैस्टिंग मशीनों के उदघाटन उपरांत पत्रकारों से बात करते हुए दी। गृह मंत्री ने कहा कि जब कोरोना शुरू हुआ था तब हरियाणा प्रदेश में एक भी कोरोना टैस्टिंग मशीन नही थी। कोरोना टैस्टिंग के लिए नमूनों को पुणे भेजना पड़ता था लेकिन वर्तमान में बहुत कम समय में हरियाणा प्रदेश में कोरोना टैस्टिंग की 14 मशीने काम कर रही हैं। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने यह भी बताया कि सैक्टर 10 स्थित पोली क्लीनिक में सीबी नाट, ट्रयूनाट और आरटीपीसीआर कोरोना टैस्टिंग की तीन मशीने स्थापित की गई हैं। इन मशीनों की नमूनों को जांच करने की प्रतिदिन की क्षमता शुरूआती दौर में करीब 300 है। टैस्टिंग मशीनो के स्थापित होने से अब हमें कोरोना के नमूने जांच के लिए रोहतक या अन्य स्थानों पर नही भेजने पड़ेंगे, अम्बाला में ही इसकी टैस्टिंग होगी। इनमें से दो मशीनों ट्रयूनाट और सीबी नाट से एक घंटे के अंदर ही टैस्टिंग की रिपोर्ट प्राप्त हो सकती है।
पोली क्लीनिक में टैस्टिंग और सैम्पलिंग की व्यवस्था भी रहेगी। इस व्यवस्था से अम्बाला को तो फायदा मिलेगा ही, समूचे प्रदेश के लोगों को भी इससे फायदा होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ हमारी जंग मजबूत होती जा रही है। आने वाले समय में कोरोना पर हमारी जीत होगी और हम सबके सांझे प्रयास कोरोना को हराने में सफल होंगे।
इस अवसर पर उपस्थि सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह ने बताया कि यह टैस्टिंग लैब आईसीएमआर द्वारा स्वीकृत तथा नियमों व गाईडलाईन के अनुसार स्थापित की गई है। इस लैब को केवल मात्र 12 दिनों में स्थापित कर दिया गया है। जिला मॉलीक्यूलर लैब प्रदेश की छठी ऐसी लैब है, जिससे आरटीपीसीआर के तहत कोरोना की जांच की जा सकती है।
इस मौके पर स्थानीय विधायक असीम गोयल, एसीएस अमित झा, डी.सी. अशोक कुमार शर्मा, एसडीएम गौरी मिड्ढ, सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह, डा0 संजीव सिंगला, डा0 संगीता, डा0 बलविन्द्र कौर, डा0 सुखप्रीत सिंह, डा0 बेला शर्मा, डीएसपी मुनीष सहगल के अलावा मनदीप राणा, संदीप सचदेवा, रितेश गोयल, अर्पित अग्रवाल, विनीश विरमानी, गुरविन्द्र सिंह, प्रीतम गिल सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।