कोरोना संकट में लोगों को राहत पहुंचाने ट्रीफ संस्था ने 200 सूखे राशन के पैकेट किये दान क्वारेंटाइन सेंटर्स में भी फूड पैकेट किये जायेंगे इस्तेमाल
May 28th, 2020 | Post by :- | 106 Views

कोंडागांव(नरेश जैन )—–-कोरोना वायरस से संक्रमण से बचाव के लिए किए गए लॉकडाउन में कई ऐसे वर्ग हैं जिन्हें सुविधाओं के आभाव में रहना पड़ रहा है। ऐसे में कई समाज सेवी संस्थाये मदद के लिए अपना हाँथ बढा कर शासन-प्रशासन के साथ जनता को सहायता करने के लक्ष्य में सहयोग कर रहे हैं। ऐसी ही एक संस्था ट्रीफ (ट्रांसफॉर्म रूरल इंडिया फाउंडेशन) ने कोण्डागांव जिले में जिला प्रशासन के सहयोग से 200 फूड पैकेट कोरोना के खिलाफ जंग में लोगों के सहयोग के लिए दान किया है। इसके सम्बन्ध में आकांक्षी जिला फेलो रजनीश राजन  ने बताया कि 40 पैकेट राशन समाज कल्याण विभाग की सहायता से पेंशन प्राप्त विधवा, विकलांग, सामाजिक पेंशन प्राप्त करने वालों एवं तृतीय लिंग वाले जरूरतमंद लोगों में बांटा गया जबकि 40-40 पैकेट राशन नगर पंचायत केशकाल एवं फरसगांव में तथा 80 पैकेट नगर पालिका कोण्डागांव द्वारा संचालित क्वारेंटाइन सेंटरों को दिया गया है। जिसका उपयोग क्वारेंटाइन सेंटर में रखे गए लोगों के लिए किया जावेगा जबकि नगर पालिका को प्राप्त 80 पैकेट का प्रयोग क्वारेंटाइन सेंटर्स के अलावा ऐसे जरूरतमंद व्यक्ति जिनके पास राशन कार्ड  नही हैं उनकी सहायता को प्रदान की जावेगी।
उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व में ट्रीफ द्वारा  हेल्थ किट प्रदाय किया गया था।  जिसमें पीपीई किट, एन-95 मास्क, सर्जिकल दस्ताने, हैवी ड्यूटी ग्लोब्स, थर्मो स्केनर शामिल थे। इस प्रकार जिले में अभी 150 पीपीई किट, 400 मास्क (एन-95), 100 सर्जिकल दस्ताने, 25 हैवी ड्यूटी ग्लोब्स एवं 10 थर्मो स्केनर दिए गए है। इन सामग्रियों को स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग के समन्वय से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, मितानिनो, एएनएम को वितरित किया गया है। ज्ञात हो दिए गए सूखे राशन पैकेट में 13 किलो चावल, एक लीटर तेल, एक किलो नमक, 2 किलो राहड़ दाल, मसाले, एक-एक किलो आलू-प्याज एवं साबुन दिए जा रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि ट्रीफ द्वारा झारखंड, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, ओडिसा, मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलों में सूखे राशन दवाइयां और मेडिकल इक्विपमेंट पहुंचा रहे हैं। इसके तहत छत्तीसगढ़ में आकांक्षी जिलों बस्तर, कांकेर, कोण्डागांव, नारायणपुर, बीजापुर, दंतेवाड़ा एवं राजनांदगांव में 200-200 सूखे राशन के पैकेट दिए गए हैं।
इस अवसर पर कलेक्टर नीलकण्ठ टीकाम ने कहा कि इस संकट के समय प्रशासन को सभी के साथ कि आवश्यकता है ऐसे में समाजसेवी संस्थाओं के आगे आने से हमें काफी मदद मिली है ऐसे ही सभी को अपनी क्षमता अनुसार लोगो को व्यक्तिगत स्तर पर भी एक दूसरे की मदद करना है परन्तु घर से बेवजह ना निकलें, सोशल डिस्टेंसिग का पालन करें एवं मास्क का प्रयोग सभी जगह अनिवार्य रूप से करें। सीईओ डी एन कश्यप ने कहा कि इस आपदाकाल मे जितने हाथ सहयोग के लिए सामने आएं उतना बेहतर है हम ट्रीफ द्वारा किये गए सहयोग का आभार व्यक्त करते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।