शिव का प्रत्येक शिवलिंग तीर्थ है- शास्त्री
August 19th, 2019 | Post by :- | 80 Views

कुरुक्षेत्र, ( सुरेश पाल सिंहमार ) । प्रसिद्ध दु:खभंजन मंदिर में भाद्रपद मास के सोमवार को हवन यज्ञ किया गया। जिसमें शिव भक्तों ने सबकी सुख-शांति के लिए पूर्ण आहूति डाली और पूजा-अर्चना की तथा भोले नाथ को दूध-फल-फूल, बेल-पत्र चढ़ाए और शिवलिंग को रुद्राक्षमाला व फूलों से सजाया गया। मंदिर में पूजा अर्चना की गई व भक्तों हेतू भंडारा प्रसाद का वितरण किया गया।  पं सुशील कुमार शास्त्री ने कहा कि शिव भोने के भारत वर्ष में स्थापित शिवलिंग एक तीर्थ के समान है। जिनके दर्शन मात्र से ही मानव अपने आप को धन्य मानता है व शिव उस पर कृपा करते हैं।

इस अवसर पर जगन्नाथ अत्री मैनेजर, ज्ञान चंद पराशर, एचके पाल, कुलवंत सिंह भट्टी, संजय, रविकांत शर्मा, श्याम सुंदर, मनजीत कुमार, पं प्रमोद कौशिक, सुनील वधवा, बलवान सिंह बेदी, श्रवण कुमार, रामनाथ, बैजनाथ, शाम सुंदर तिवारी, धर्मवीर शर्मा, दर्शन सिंह, नरेन्द्र संधू, बलजीत सैनी, तिलक वधवा, राजेन्द्र कुमार, कुसुम गांधी, संतोष तिवाड़ी, शिव किशोर शर्मा, सुशाीला रानी, राधा रानी, रुपा, सुभाष, राजेश वत्स, कुसुम गांधी, शीला, श्यामसुंदर, राजकुमार शर्मा, मेहरचंद मुखी, एमके मौदगिल, ओ.पी. कपूर, पदम जोशी, यशपाल शर्मा, तिलक राज धमीजा, दर्शन पुरी, मनोहर लाल खुंगर, दर्शन पाहवा, अनिरुद्ध कौशिक, सुरेन्द्र पाल कौशिक, सतीश वालिया, आदि श्रद्धालु प्रमुख रुप से मौजूद रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।