गैर ईरादतन हत्या के आरोपी को तीन वर्ष के कारावास की सजा
May 27th, 2020 | Post by :- | 207 Views

कोंडागांव/अमरेश कुमार झा

आरोपी –
मंगलूराम नेताम पिता चमराराम नेताम, उम्र 55 वर्ष
निवासी ग्राम-पुसापाल बडेपारा,
थाना-फरसगांव, जिला- कोण्डागांव

आहत –
सोनूराम नेताम
निवासी ग्राम-पुसापाल बडेपारा,
थाना-फरसगांव, जिला- कोण्डागांव

इस प्रकरण में शासन की ओर से हेमंत गोस्वामी, अपर लोक अभियोजक ने पैरवी की । प्रकरण के संबंध में अपर लोक अभियोजक श्री हेंमत गोस्वामी ने बताया कि – दिनांक 22.08.2019 को प्रातः करीबन 07ः30 बजे के करीब आहत सोनूराम नेताम अपने घर से पुसापाल बडेपारा भारत नेताम के घर जा रहा था । स्कूल के पास आरोपी मंगलूराम नेताम घर की बाडी में हल जोताई कर रहा था, जिसके पास जाकर आहत ने कहा कि तेरा लडका कहां है, कैसे जुताई कर रहा है, इस पर आवेश में आकर पुराने विवाद तथा जमीन संबंधी रंजिश पर पास में रखे कुल्हाडी से उसके गले एवं पीठ के पास तीन-चार बार मार दिया । इसके बाद वह आहत अवस्था में ही भारत नेताम के पास जा रहा था तब जयसिंह नेताम के घर के पास रोड में गिर गया । प्रार्थी एवं सूचनाकर्ता नरेन्द्र नेताम को आहत सोनूराम नेताम रास्तें में खून से लथपथ मिला, पूछने पर उसने बताया कि पुराने एवं जमीन संबंधी विवाद को लेकर आरोपी मंगलू नेताम ने उसे टिकरा बाडी में कुल्हाडी से मारा है । उसके बाद नरेन्द्र नेताम सायकल से भारत नेताम के घर गया और उसे इस बारे में बताया तथा कहा कि जाओ जाकर उसे बचाओं । फिर भारत नेताम गांव के अन्य लोगों को घटना के बारे में बताकर एम्बुलेंस से सोनू नेताम को ईलाज हेतु फरसगांव अस्पताल लेकर गया । उक्त घटना के संबंध में थाना फरसगांव में नरेन्द्र नेताम द्वारा आरोपी के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज कराया गया । विवेचना उपरांत धारा 307 भादवि के अपराध में अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया गया ।
कोण्डागांव जिले के अपर सत्र न्यायाधीश के.पी. सिंह भदौरिया ने प्रकरण का विचारण कर आरोपी पर धारा 308 भा.दं.सं. का अपराध प्रमाणित होना पाया एवं उक्त अपराध के आरोप में आरोपी को तीन वर्ष के कठोर करावास एवं पांच हजार रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया है । अर्थदण्ड की राशि अदा होने के व्यतिक्रम पर 06 माह के अतिरिक्त सश्रम कारावास पृथक से भुगतना का निर्णय पारित किया ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।