कोरोना सैम्पल की शुरुआती जांच के लिए सामान्य अस्पताल मांडीखेड़ा में लगाई गई मशीन
May 26th, 2020 | Post by :- | 109 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  कोरोना महामारी से निपटने में स्वास्थ्य विभाग नूह को अब ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा। नल्हड़ मेडिकल कॉलेज में आर टी पी सी आर टेस्ट की शुरुआत होने के साथ – साथ सी बी नेट मशीन से टेस्ट अब पहले से बेहतर किए जा रहे हैं , लेकिन कोरोना मरीजों की शुरुआती जांच के लिए या स्क्रीनिंग के लिए जिले के सामान्य अस्पताल अल आफ़िया मांडीखेड़ा में भी ट्रू नेट मशीन ने काम शुरू कर दिया है । जिला नॉडल अधिकारी एवं डिप्टी सिविल सर्जन डॉ अरविंद कुमार ने बताया कि ट्रू नेट मशीन से 1 घंटे में एक सैंपल का नतीजा सामने आता है। अगर सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आती है , तो गोल्ड स्टैंडर्ड टेस्ट कराने के लिए आर टी पी सी आर टेस्ट कराना मरीज का जरूरी हो जाता है । इस मशीन को नल्हड़ की आर टी पी सी आर मशीन से मैपिंग किया गया है । डिप्टी सिविल सर्जन ने कहा कि यह मशीन 1 दिन में 18 – 20 टेस्ट कर सकती है
। उन्होंने कहा कि अब ना केवल उनके सामान्य अस्पताल मांडीखेड़ा में मशीन से टेस्ट की रिपोर्ट आ सकेगी बल्कि मेडिकल कॉलेज में भी दो मशीनों से टेस्ट किए जा रहे हैं । ऐसे में कोरोना सैम्पल को रोहतक , गुरुग्राम , फरीदाबाद इत्यादि जिलों को जरूरत पड़ने पर ही भेजा जाएगा । दरअसल महामारी से निपटने के लिए शुरुआत में सैंपल पीजीआई रोहतक या गुरुग्राम के निजी लैब में स्वास्थ्य विभाग द्वारा भेजे गए थे । इन सैंपल को भेजने तथा रिपोर्ट आने में न केवल समय लगता था बल्कि धन की भी हानि हो रही थी । कोरोना लंबे समय तक रह सकता है , इसीलिए स्वास्थ्य विभाग ने अब शुरुआती जांच के लिए मांडीखेड़ा अस्पताल में ही ट्रूनेट मशीन लगा दी है । नूह जिले के स्वास्थ्य विभाग को न केवल इस मशीन की शुरुआत होने से काम करने में आसानी होगी बल्कि आम नागरिकों को भी अब कोरोना की रिपोर्ट आने के लिए कई दिनों का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।