सरकारी स्कूल में राशन को लेकर भिड़े दो गुट , झगड़े में घायल एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत
May 26th, 2020 | Post by :- | 64 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  नगीना थाना क्षेत्र अंतर्गत राजाका गांव में कई दिन पहले सरकारी स्कूल में बच्चों को राशन वितरण किया जा रहा था । उसी दौरान एक ही परिवार के दो गुट आपस में राशन वितरण को लेकर उलझ गए । राजाका गांव में हुए झगड़े में दोनों गुटों के बीच जमकर लाठी – डंडे चले , जिसमें दोनों गुट के तकरीबन 10 लोग घायल हो गए थे । घायलों में गफूर को ज्यादा चोट आने की वजह से अल आफ़िया सामान्य अस्पताल मांडीखेड़ा से सफदरजंग दिल्ली रेफर किया गया था । इलाज के दौरान सफदरजंग अस्पताल दिल्ली में गफूर पुत्र सदीक निवासी राजाका उम्र 36 वर्ष तीन बच्चों के पिता ने झगड़े में लगी चोटों के वजह से दम तोड़ दिया। नगीना पुलिस ने इस मामले में 28 लोगों को नामजद किया है व कुछ अन्य लोग भी झगड़े में शामिल बताए जा रहे हैं । राजाका गांव के झगड़े में पहले तो पुलिस ने हत्या के प्रयास की कोशिशों का मुकदमा दर्ज किया था , लेकिन गफूर की मौत होने के बाद केस में हत्या की धारा भी ईजाद कर दी है । ईद से कुछ दिन पहले रमजान के पवित्र महीने में हुए झगड़े में गफूर की जान जाने से राजाका गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है । एसएचओ नगीना समसुद्दीन ने कहा कि 28 लोगों को मुकदमे में नामजद किया गया है । अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है । जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा । कुल मिलाकर मामूली से विवाद की वजह से आज गफूर इस दुनिया में नहीं है और परिवार में ईद के त्यौहार पर खुशियों की जगह मातम पसरा हुआ है , वही अगर बात आरोपी पक्ष की करें तो आरोपी पक्ष घटना के बाद से फरार बताया जा रहा है । उनके घर भी ईद की खुशियों की जगह गमों का पहाड़ टूट पड़ा है । मृतक व आरोपी एक ही परिवार से संबंध रखते हैं , लेकिन अब इस हत्याकांड की वजह से लंबे समय के लिए परिवार में दरार पैदा होने से इनकार नहीं किया जा सकता।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।