गर्मी के मद्देनजर जिलावासियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जिला में धारा 144 लागू
May 26th, 2020 | Post by :- | 169 Views

होडल, (मधुसूदन भारद्वाज), जिला उपायुक्त नरेश नरवाल  ने बढ़ती गर्मी के मद्देनजर जिलावासियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जिला में भारतीय दंड प्रक्रिया नियमावली 1973 की धारा 144 के आदेश पारित किए हैं। उन्होंने बताया कि गर्मी का मौसम अपने चरम पर है और लगातार तेज गर्म हवाएं चल रही हैं। आगामी 2-3 दिनों में गर्म हवा और बढने की सम्भावना है, जिससे आमजन के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है।

उल्लेखनीय है कि गर्म हवाओं के प्रभाव से मानव जीवन को हानि पहुंचने की सम्भावना है। इसके प्रभाव में आने से लू लगना, हैजा जैसी बीमारियां तुरंत असर डालती हैं, जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं। इसके अतिरिक्त वैश्विक महामारी कोविड-19 का संक्रमण पहले से ही फैली हुई है। सरकार द्वारा भी गर्मी के मौसम में बचाव के लिए एडवाइजरी क्या करना चाहिए अथवा नहीं करना चाहिए (डूज एंड डोन्ट्स) जारी की जा चुकी है।

गर्मी से बचावके साधनों का करें उपयोग

जिलाधीश ने जिलावासियों से आह्वïान किया है कि वे हीट स्ट्रोक से बचने के लिए जरूरी बचाव तरीके व सावधानियां बरतें। बढ़ती गरमी के कारण मौसम शुष्क है और गरम हवाएं भी चल रही है। इस गरमी के मौसम और गर्म हवाओं से बचने के लिए प्रत्येक व्यक्ति आवश्यक सावधानी बरतें तथा पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करें। दोपहर 12 बजे से 3 बजे के समय में बाहर निकलने से बचे, बुजुर्ग व्यक्ति (65 वर्ष या इससे अधिक आयु के व्यक्ति), बच्चे, गर्भवती महिला या किसी जीर्ण रोग से ग्रस्त व्यक्ति बाहर न निकलें, ठंडे स्थान पर ठहरने की कोशिश करें, यदि किसी परिस्थिति में बाहर निकलना पडे तो धूप से बचने के लिए छाता का प्रयोग करें, शरीर को पूरी तरह से ढक कर रखें तथा सूती, ढीले व हल्के रंग के कपडे पहनें और सिर पर टोपी व पगडी आदि पहनकर रखें, काले सिंथेटिक व मोटे कपडे पहनने से बचें, उचित मात्रा में पानी पीएं, यदि किसी व्यक्ति को लू लगने के लक्षण प्रतीत होते हैं तो वह तुरंत किसी कमरे या छायादार स्थान पर ठहरें और नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र अथवा अस्पताल में अपना उपचार करवाएं।
संबंधित विभागों को दिए निर्देश
जिलाधीश ने गर्मी के मौसम के दृष्टिïगत बिजली, जनस्वास्थ्य एवं आभियंत्रिकी, स्वास्थ्य विभाग, नगर परिषद व नगर पालिका और विकास एवं पंचायत विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि बिजली की सप्लाई में कोई दिक्कत न हो तथा पानी की व्यवस्था को सुचारू रूप से बनाए रखें। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अस्पतालों व मोबाइल वैन में पर्याप्त दवाईयां उपलब्ध रखें। उन्होंने शहरी क्षेत्र में नगर परिषद व नगर पालिका तथा ग्रामीण क्षेत्रों में विकास एवं पंचायत विभाग के अधिकारियों को साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए हैं। जहां कहीं किसी प्रकार को दिक्कत आती है तो उसका तुरंत समाधान करें ताकि आमजन को कोई परेशानी न हो।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।