4600 प्रवासी मजदूरों के ट्रेन से भेजा बिहार-कंवरपाल
May 29th, 2020 | Post by :- | 16 Views
4600 प्रवासी मजदूरों के ट्रेन से भेजा बिहार-कंवरपाल

यमुनानगर,(सुरेश अंसल)। हरियाणा सरकार ने कोविड-19 की लॉकडान अवधि में श्रमिकों को उनके गृह प्रदेशों मे भेजने के लिए 22 मई से 27 मई तक स्पैशल श्रमिक ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया है। इसी कड़ी में जिला यमुनानगर से आज तीन स्पैशल श्रमिक रेलगाडिय़ों द्वारा लगभग 4600 प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह प्रदेश बिहार भिजवाया गया है।

शिक्षा मंत्री कंवरपाल जी व जिला यमुनानगर उपायुक्त मुकुल कुमार जी के दिशा निर्देशन में जिला में बनाए गए शेल्टर होमों में प्रवासी श्रमिकों को भोजन करवाकर, स्वास्थ्य जांच कर, स्टेशन पर भोजन के पैकेट देकर, पानी की बोतल देकर तथा रेलगाडिय़ों को सामाजिक न्याय के नियमों से बिठाकर खुशी-खुशी उनके गृह प्रदेश में भिजवाया गया।
जगाधरी यमुना नगर रेलवे स्टेशन से पहली स्पेशल श्रमिक रेलगाड़ी लगभग 1550 प्रवासी श्रमिकों को लेकर बरौनी (बिहार) के लिए रवाना हुई।

इस स्पेशल श्रमिक ट्रेन के रवाना होने के अवसर पर हरियाणा के कैबिनेट शिक्षा मंत्री कंवरपाल , यमुनानगर के विधायक घनश्याम दास अरोड़ा , उपायुक्त मुकुल कुमार, पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग ,एसडीएम दर्शन कुमार , नगराधीश भारत भूषण कौशिक, उप पुलिस अधीक्षक सुभाष चंद्र, डी आर ओ अभिषेक, डीडीपीओ शंकर लाल गोयल, मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी नमन जैन, रेलवे स्टेशन अधीक्षक एस के जोशी, सहायक सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी स्वर्ण सिंह जंजोटर सहित अन्य अधिकारीगण, नेता, गणमान्य व्यक्ति व मीडिया प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

जिला यमुनानगर से पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन को रवाना करने के बाद मीडिया से रूबरू होते हुए हरियाणा के शिक्षा मंत्री चौधरी कंवरपाल जी ने कहा कि यह रेलगाड़ी यहां से चलकर सीधी बरौनी (बिहार) ही रुकेगी रास्ते में कहीं भी नहीं रुकेगी। उन्होंने प्रवासी मजदूरों से अपील की है कि वह शेल्टर होमों में जहां रुके हैं। वहीं रुके रहे ताकि कोरोना वायरस से बचाव हो सके व इसे फैलने से रोका जा सके।

शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने कहा कि आज जो प्रवासी श्रमिक ट्रेन द्वारा भेजे जा रहे हैं उनमें से अधिकतर पंजाब से पैदल चलकर या साईकिलों से यहां आए थे तथा यमुना नगर प्रशासन ने शैल्टर होमों में सुविधाओं सहित रखा व आज उन्हें उनके गृह प्रदेश भिजवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अन्य प्रदेशों की सरकारों को भी प्रवासी श्रमिकों को अपने स्तर पर उनके गृह प्रदेशों में भिजवाने के लिए उचित कदम उठाने चाहिए। यमुनानगर प्रशासन इसके लिए बधाई का पात्र है।

यमुनानगर के विधायक घन श्याम दास अरोड़ा ने उपायुक्त मुकुल कुमार को प्रवासी श्रमिकों को रेलगाडिय़ों द्वारा उनके गृह प्रदेशों में भिजवाने के नेक कार्य के लिए उन्हें बधाई दी व कहा कि हरियाणा सरकार ने यह एक अच्छा निर्णय लिया है व जिला के अधिकारियों द्वारा यमुनानगर में यह कार्य बखूबी सही ढंग से किया जा रहा है।

उपायुक्त मुकुल कुमार ने पहली स्पैशल श्रमिक ट्रेन के रवाना होने से पूर्व मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आज जगाधरी यमुनानगर से 3 स्पेशल श्रमिक ट्रेन बिहार के लिए जा रही है पहली श्रमिक ट्रेन बरौनी (बिहार) के लिए जाएगी इसके बाद मुजफ्फरपुर व कटिहार (बिहार) के लिए दो विशेष श्रमिक ट्रेनें आज ही रवाना होगी। इन रेलगाडिय़ों में बिहार राज्य के 10 से 12 जिलों के प्रवासी श्रमिक अपने घरों को सुरक्षित ढंग से वह सुविधाजनक तरीके से जा रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा इन प्रवासी श्रमिकों की हर सुख सुविधा का ध्यान रखा जा रहा है।

पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग ने कहा कि शेल्टर होम व रेलगाडिय़ों में प्रवासी श्रमिकों की सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं। जिसमें रेलवे पुलिस भी सहयोग कर रही है।

यमुनानगर जगाधरी रेलवे स्टेशन से पहली स्पेशल श्रमिक ट्रेन दोपहर 12:15 बजे बरौनी (बिहार) के लिए रवाना हुई ।दूसरी स्पेशल श्रमिक ट्रेन सांय 4:20 मुजफ्फरपुर (बिहार) के लिए रवाना हुई तथा तीसरी स्पेशल श्रमिक ट्रेन आज शाम 6:00 बजे के बाद कटिहार (बिहार) के लिए रवाना होगी ।स्पेशल श्रमिक ट्रेनों के रवाना होने पर श्रमिकों ने तालियां बजाकर खुशी का इजहार किया व नेतागणों तथा जिला के अधिकारियों ने उन्हें बाय-बाय कहा। इन स्पेशल श्रमिक ट्रेनों में कटिहार, बरौनी, मुजफ्फरपुर, मध्धेपुरा, चमपारण, मोतीहरी, नवादा, महुवा, सिपोल, मुंगेर, सहरसा, बेतिया व अन्य जिलों के प्रवासी श्रमिक अपने घरों को जा रहें हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।