दो महीने से फंसे थे, घर पहुंच कर हुई खुशी, थैंक्यू जय राम ठाकुर जी
May 24th, 2020 | Post by :- | 68 Views

ऊना (24 मई)- अहमदाबाद से रेलगाड़ी में वापस लौटा हर हिमाचलवासी खुशी नजर आया और प्रदेश सरकार का धन्यवाद किया। कांगड़ा जिला के आलिद अवे दो महीने से गुजरात में लॉकडाउन के बीच फंसे हुए थे और अब घर वापस लौट कर खुश हैं। उन्होंने कहा ”मैनेजमेंट की पढ़ाई करने के बाद मैं नौकरी के लिए गुजरात गया था। मार्च माह में नौकरी ज्वाइंन करने पहुंचा, तो दो-तीन दिन बाद ही कोरोना संकट के चलते लॉकडाउन लग गया। परिवार वाले काफी चिंता में थे लेकिन अब हिमाचल प्रदेश वापस आकर अच्छा महसूस हो रहा है। ”

इंटरनशिप करने अहमदाबाद गई निधि शर्मा ने भी मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का धन्यवाद किया है। निधि ने बताया कि दिसंबर में इंटरनशिप करने के लिए गई थी लेकिन मार्च में लॉकडाउन लगने के बाद वहीं फंस गए। प्रदेश सरकार ने अहमदाबाद से ट्रेन चलाकर अच्छा कदम उठाया है। पूरे रास्ते में कहीं कोई समस्या खड़ी नहीं हुई।

गुजरात में नेटवर्किंग इंजीनयर का काम कर रहे चंबा निवासी यशपाल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने बहुत अच्छी व्यवस्थाएं की हैं। ऊना रेलवे स्टेशन पर बेहतरीन व्यवस्थाएं बनाई गई हैं। सभी को सैनिटाइज करने के बाद थर्मल स्कैनिंग की जा रही है और फिर रास्ते के लिए खाना व पानी भी प्रदान किया जा रहा है। सरकार का बहुत-बहुत धन्यवाद।

भरूच से लौटे हमीरपुर जिला के भोरंज उपमंडल के दुनी चंद ने कहा कि लॉकडाउन में वह वहां फंस गए थे। लेकिन हिमाचल प्रदेश सरकार ने वापस लाने का प्रबंध कर अच्छा कदम उठाया है। ऊना रेलवे स्टेशन से एचआरटीसी की बसों के माध्यम से घरों को भेजा जा रहा है। व्यवस्थाएं बहुत अच्छी हैं।

दो महीने से जोधपुर में फंसी शिमला निवासी कृतिका ने बताया कि प्रदेश सरकार ने घर पहुंचाकर बहुत बढ़िया कदम उठाया है। ऊना रेलवे स्टेशन पर अच्छे इंतजाम हैं। प्रदेश सरकार व जिला प्रशासन ऊना का हार्दिक धन्यवाद।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।