जौनपुर।रक्षक बना भक्षक,फरियादी की इंस्पेक्टर ने थाने में पट्टे से किया पिटाई, वायरल हुआ पिटाई का वीडियो ।
May 23rd, 2020 | Post by :- | 3265 Views

जौनपुर।बरसठी थाना पुलिस के घर दबंगों द्वारा दलित को बंधक बनाकर स्टाम्प पर हस्ताक्षर करा लेने के मामले में शिकायत लेकर थाने पहुंचे दलित को दबंग के इशारे पर इंस्पेक्टर मुन्नाराम धुंसिया द्वारा दीवार से सटाकर पट्टे से पिटाईकर थर्ड डिग्री इस्तेमाल करने के मामले में शनिवार को यह वारदात पुलिस को शर्मसार करने वाली रही। इंस्पेक्टर के इस करतूत का खुलासा जैसे ही क्षेत्र में लगी चारों तरफ पुलिस की इस कार्रवाई की निंदा होने लगी फिलहाल पुलिस ने अपने कसूर को छिपाने के लिए फरियादी का मेडिकल करा कर शांतिभंग में चालान कर दिया। लेकिन दलित के पिछवाड़े का हिस्सा पुलिस की मार का गवाह बना हुआ है।

शनिवार की दोपहर पर थाना क्षेत्र के चकमलाई गांव का गरीब दलित आसाराम गौतम गांव के कोटेदार के यहां राशन लेने के लिए गया था वही गांव के एक दबंग से उसकी मुलाकात हो गई और उसे वह उठाकर बंधक बना लिया डराने धमकाने के बाद उससे सादे स्टाप पर हस्ताक्षर करा कर किसी से शिकायत नहीं करने की धमकी देते हुए छोड़ दिया। दलित आसाराम रोते बिलखते गांव के समाजसेवी शिव कुमार पांडेय के पास पहुंचा उन्होंने पीड़ित दलित को लेकर थाने के इंस्पेक्टर मुन्ना राम से मुलाकात किया। इंस्पेक्टर ने थाने पर तुरंत दबंग को भी बुलाया। आरोप है कि उसके बाद दलित फरियादी आसाराम के साथ थर्ड डिग्री इस्तेमाल करने का सिलसिला शुरू कर दिया।

वीडियो में प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया की पुलिस ने दबंग के सामने ही फरियादी को खंभे में पकड़वाकर पट्टे से पिछवाड़े अनगिनत पीटाई किया। प्रत्यक्ष देखने वालों की आंखों से पानी नहीं खून टपकने लगा लेकिन पुलिस के गुंडागर्दी के आगे सब बेबस दिखे। पुलिस का गिरेहबान फंसे नहीं इसके लिए बाकायदा फरियादी का मेडिकल भी हुआ और उसका शांतिभंग में चालान भी किया गया। इंस्पेक्टर के इस कारनामे की चर्चा क्षेत्र में जोरों से हो रही है। फिलहाल पिटाई से घायल दलित आसाराम के जुबानी और प्रत्यक्षदर्शी शिव कुमार पांडेय का वीडियो एवं ऑडियो तेजी के साथ क्षेत्र में वायरल हो रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।