हमीरपुर और कांगड़ा में कोरोना के 15 नए मामले, सूबे में कुल केस हुए 167

हमीरपुर. हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले में कोरोना वायरस के मामलों का सिलसिला लगातार बढ़ रहा है. गुरुवार को जिले में 31 केस मिलने के बाद अब शुक्रवार को यहां 15 नए मामले रिपोर्ट हुए हैं. डीसी हमीरपुर हरिकेश मीना ने 14 नए मामले मिलने की पुष्टि है. उन्होंने कहा कि सभी मामलों की ट्रेवल हिस्ट्री के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

फिलहाल, हमीरपुर जिले में कुल मामलों की संख्या पचास को पार कर गई है. यहां पर 57 करोना मरीज हो गए हैं. वहीं, प्रदेश में करोना मरीजों की संख्या 167 पहुंच गई है.

हमीरपुर में दो दिन में 43 केस
हमीरपुर जिले में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 45 केस रिपोर्ट हुए हैं. वहीं, हिमाचल में हमीरपुर, कांगड़ा, सोलन जिले में 58 केस सामने आए हैं. ऐसे में लगातार आंकड़ा बढ़ने से दहशत का माहौल है.

महिला और तीन बेटियां पॉजिटिव
उपायुक्त हरिकेश मीणा ने कहा कि जिला में कोविड-19 संक्रमित 12 व्यक्तियों के मामले सामने आए हैं. यह सभी लोग मुंबई से वापस लौटे हैं. उन्होंने कहा कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, कश्मीर में संस्थागत क्वारंटीन  में रखी खुंगल गांव की एक 44 वर्षीय महिला एवं उसकी 17, 15 व 11 वर्षीय तीन बेटियों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है. महिला के पति मुंबई से 14 मई, 2020 को परिवार सहित लौटे हैं और 16 मई, 2020 को उनका भी नमूना जांच के लिए लिया गया था, जिसमें उनके संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी. यह चारों उसी व्यक्ति के प्राथमिक सम्पर्क थे.

दादा-पौता संक्रमित
इसके अतिरिक्त गलोड़ क्षेत्र के दसवीं गांव की 31 वर्षीय महिला तथा जांसु क्षेत्र के सुक्रियाह गांव का 19 वर्षीय युवक भी कश्मीर में ही संस्थागत क्वारंटीन में थे और कोविड-19 संक्रमित पाए गए हैं. यह दोनों भी मुंबई से लौटे हैं. इसी प्रकार जिला शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान (डाईट), गौना करौर में संस्थागत क्वारंटीन रियोरी गांव की 41 वर्षीय महिला, 21 वर्षीय युवक व उसके 78 वर्षीय दादा के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. बड़सर क्षेत्र के पाहलू गांव का 29 वर्षीय युवक भी कोविड-19 संक्रमित पाया गया है, जो मुंबई से अपनी गर्भवती पत्नी के साथ वापस लौटा था और होम क्वारंटीन में रखा गया था, इसके अतिरिक्त राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला नाल्टी में संस्थागत संगरोध हार (नाल्टी) गांव का 55 वर्षीय व्यक्ति एवं उसका 23 वर्षीय बेटा भी कोविड-19 संक्रमित पाए गए हैं. यह दोनों 17 मई, 2020 को मुंबई से लौटे हैं और टैक्सी चलाते हैं.

हमीरपुर में शाम को दो केस और आए
हमीरपुर में 12 केस के बाद देर शाम दो और केस आए हैं. एक बड़सर के बरोटी गांव का 41 वर्षीय व्यक्ति मुंबई से दिल्ली तक राजधानी रेलगाड़ी के माध्यम से पहुंचा और इसके आगे दिल्ली की टैक्सी में 18 मई, 2020 को यहां आया था, जिसे राजकीय प्राथमिक पाठशाला बतलाऊ में संस्थागत संगरोध में रखा गया था. उसके साथ बिलासपुर जिला के घुमारवीं से संबंध रखने वाला उसका नजदीकी रिश्तेदार (बहनोई) भी वापस आया है. दूसरा 26 वर्षीय व्यक्ति नादौन क्षेत्र के जमनोटी गांव का है, जो मुंबई में फिल्म इंडस्ट्री में कार्य करता है और 13 मई, 2020 को जयपुर नंबर की टैक्सी से अपनी पत्नी व लगभग डेढ़ माह के बच्चे के साथ वापस लौटा है और गृह-संगरोध में रखा गया था। इन्हें छोड़कर टैक्सी वापस जयपुर चली गयी थी.

कांगड़ा में एक केस आया
वहीं, शुक्रवार को कांगड़ा में 28 वर्षीय युवक कोरोना संक्रमित निकला है. थुरल के कौना का रहने वाला युवक मुम्बई से 18 मई को वापस लौटा था. उसे बीते 4 दिनों से संस्थागत क्वारंटीन में रखा गया था.  अब युवक को बैजनाथ में शिफ्ट किया गया है. कांगड़ा में कन्फर्म मामलों की संख्या 42 हो गई है. वहीं, सूबे में कोरोना के कुल मामले अब 167 हो गए हैं.