सत्यपाल जैन पहुंचे हरे कृष्णा आश्रम : चंडीगढ़ इस्कॉन के प्रथम अध्यक्ष से लिया आशीर्वाद

चंडीगढ़ (मनोज शर्मा) चंडीगढ़ के पूर्व सांसद एवं अतिरिक्त महाधिवक्ता भारत सरकार सत्यपाल जैन आज से. 26 स्थित हरे कृष्णा आश्रम पहुंचे। उनके साथ पूर्व पार्षद सतिंदर सिंह और हरिशंकर मिश्रा भी थे। जैन ने आश्रम के संस्थापक भक्ति चेतन्य स्वामी जी से आशीर्वाद लिया। स्वामी जी चंडीगढ़  इस्कॉन के प्रथम अध्यक्ष भी रहे हैं। वे आश्रम में आधा घंटा रुके। उन्होंने देश एवं शहर की वर्तमान कोरोना की स्थिति पर भी चर्चा की। इस मौके पर ऑन फेथ फॉउंडेशन, कनाडा के वैश्विक अध्यक्ष व सुखमयी सेवा समिति चंडीगढ़ के संचालक पं. वरिंदर भटारा भी मौजूद रहे।

उल्लेखनीय है कि सत्यपाल जैन जैसा जाना पहचाना चेहरा जो कि वर्षों से हाशिए पर पड़ा था शहर की राजनीति में फिर एक बार केंद्र बिंदु में है जबकि सतिंदर सिंह भी उनके साथ जुड़े हैं जो पार्टी में पद के बिना भी सक्रिय रहते हैं एवं जनता की मांगों को उठाते रहते हैं। इसके अतिरिक्त अफसरशाही में वह अच्छी पकड़ रखते हैं। पिछले कुछ दिनों से सत्यपाल जैन जैसे लोकप्रिय चेहरा एवं सतिंदर सिंह की जोड़ी ने कार्यकर्ताओं एवं नेताओं में जोश एवं उमंग भर दी है। उनके मुताबिक इस समय अधिकांश कार्यकर्ता जो अपने को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं इस नेतृत्व के साथ जुड़ने को आतुर हैं।

उल्लेखनीय है कि स्वामी जी अंतर्राष्ट्रीय कृष्णा भावना अमृत संघ के संस्थापक स्वामी ए सी भक्तिवेदांत स्वामी महाराज जी के अत्यंत करीबी शिष्य रहे एवं चंडीगढ़ इस्कॉन की जमीन अलॉटमेंट एवं मंदिर निर्माण की जिम्मेदारी स्वामी प्रभुपाद जी ने वर्ष 1976 में स्वामी चैतन्य गुरु जी को प्रदान की थी। स्वामी जी अनेक संस्थाओं से जुड़े रहे हैं पंजाब के आतंकवाद दौर में पंजाब पीस काउंसिल के चेयरमैन भी रह चुके हैं। वे कई जगह पर मंदिरों का निर्माण करवा चुके हैं। वर्तमान में वह सेक्टर 26 स्थित हरे कृष्ण मिशन के अंतर्गत भगवान कृष्ण के प्रचार प्रसार का संचालन कर रहे हैं। उनके ट्राइसिटी में हजारों भक्तों एवं प्रशंसक उनके नेतृत्व में प्रचार में सहयोग एवं समाज कल्याण के लिए कार्य कर रहे हैं।