बद्दी ! एसएचओ लखबीर सिंह और कांस्टेबल गुरमेल के साहस भूला पुलिस विभाग
May 21st, 2020 | Post by :- | 137 Views

– 9 घंटे के ज्वाईंट आप्रेशन में महिला को बचाने को लगा दी थी जान की बाजी…


बद्दी पुलिस थाना के प्रभारी और कांस्टेबल के अद य साहस को प्रदेश पुलिस विभाग भूल गया। पुलिस थाना बद्दी के प्रभारी एसएचओ लखबीर सिंह व कांस्टेबल गुरमेल सिंह ने अगस्त माह में बारिश के तांडव के दौरान अपनी जान की परवाह किए बिना मलबे के नीचे दबी महिला की जान बचाई थी। पुलिस विभाग ने कर्तव्य और डयूटी के लिए अनेकों पुलिस अफसरों व जवानों को डीजीपी डिस्क अवार्ड और उत्कृष्ट सेवा मैडल से नवाजे जाने की नोटिफिकेशन जारी की है। इस नोटिफिकेशन के बीच प्रदेश पुलिस विभाग बद्दी के एसएचओ लखबीर सिंह और कांस्टेबल गुरमेल सिंह की बहादुरी और अद य साहस की मिसाल को भूल गया। अगस्त 2019 को पुलिस थाना बद्दी के तहत ग्राम पंचायत मानपुरा के गांव मानकपुर में एक रिहायशी मकान पर डंगा गिर गया था। जिसमें मकान के अंदर सो रहे पिता पुत्र की मौके पर मौत हो गई थी और एक 25 वर्षीय महिला मलबे के नीचे दब गई थी।
हादसे की सूचना मिलते ही एसएचओ बद्दी लखबीर सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे और जैसे ही उन्हें पता चला के मलबे के नीचे दबी महिला जीवित है उन्होंने बिना समय गवाए महिला को बचाने के लिए रेस्कयू आप्रेशन शुरू कर दिया था। एसएचओ लखबीर सिंह और कांस्टेबल गुरमेल ने एनडीआरएफ और दमकल विभाग की टीम का भी इंतजार नहीं किया और महिला को बचाने के लिए अपनी जान की परवाह किए बगैर ही आप्रेशन शुरू कर दिया था। हालांकि बाद में एनडीआरएफ और दमकल विभाग की टीम पहुंची थी और 9 घंटे की रेस्कयू आप्रेशन के बाद मलबे के नीचे दबी महिला को बाहर निकाला गया था। इस पूरे आप्रेशन में एसएचओ लखबीर सिंह और कांस्टेबल गुरमेल ने अहम रोल निभाया और उनके द्वारा बिना समय गवाए किए गए प्रयास रंग लाए थे।
बताते चलें कि कोरोना महामारी में भी एसएचओ लखबीर सिंह ने फ्रंट लाईन वॉरियर की भूमिका निभा रहे हैं और बद्दी जैसे संवेदनशील एरिया में उन्होंने अपनी कावलियत को साबित किया है। इस संकट की घड़ी में डयूटी के साथ साथ एसएचओ लखबीर सिंह मानवता और जनता के मसीहा के रूप में अपनी पहचान बना चुके हैं। एक बच्ची, महिला और मानसिक परेशान महिला समेत कई लोगों की सहायता एसएचओ लखबीर सिंह ने डयूटी के साथ साथ मानवता की मिसाल पेश की है।
जिला परिषद सोलन के चेयरमैन धर्मपाल चौहान, प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य कैप्टन डीआर चंदेल, डा. श्रीकांत शर्मा, भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष मेला राम चंदेल, इंटक के प्रदेशाध्यक्ष बबलू पंडित, जनशक्ति मजदूर सभा के प्रदेशाध्यक्ष राज कुमार चौधरी, पंचायत प्रधान एसोसिएशन के अध्यक्ष एंव प्रधान पोला राम चौधरी, मानपुरा के प्रधान कुलदीप कौर, संडोली के प्रधान भाग सिंह चौधरी, नगर परिषद बद्दी के चेयरमैन नरेंद दीपा समेत क्षेत्र के लोगों ने एसएचओ लखबीर सिंह व कांस्टेबल गुरमेल को स मानित किए जाने की मांग उठाई है। जनप्रतिनिधियो व लोगों का कहना है कि जान की बाजी लगाने वाले दोनों पुलिस जवानों को स मान मिलना चाहिए ताकि उनका हौसला और मनोबल बना रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।