कैथल के गांव बालू के ठेके में सुबह 3 बजे लगी भयानक आग 2 करिंदों की जलकर मरने से दर्दनाक मोत
May 21st, 2020 | Post by :- | 141 Views
कैथल, लोकहित एक्सप्रैस, (ब्यूरो चीफ विशाल चौधरी ) । कैथल के उपमंडल कलायत के गांव बालू में रात के समय जहां ठेके में कार्यरत कारिंदे कुराड निवासी शमशेर और एक नेपाली की जलने से मौत हो गई पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला के नागरिक अस्पताल में भेज दिए हालांकि शराब के ठेकेदारों ने हत्या की साजिश
 कैथल के कस्बे कलायत के गांव बालू में रात एक घटना घटित हुई। जिसमें शराब के ठेके में आग लगने से शराब के ठेके के अंदर सो रहे दो कारिंदे (व्यक्तियों) की जलने के कारण मौत हो गई. घटना इतनी बड़ी थी कि आग को काबू करने के लिए फायर ब्रिगेड की गाड़ी को आना पड़ा और कड़ी मशक्कत के बाद आग को काबू किया गया.
गांव वालों ने आग की सूचना पुलिस को दी जिसमें पुलिस मौके पर पहुंची और आग बुझाने के लिए प्रयास करने लगी। आग बुझने के बाद जब उसमें देखा तो दो कारिंदे (व्यक्ति) की जलने के कारण मौत हो चुकी थी.
ठेकेदार ने कहा कि यह अचानक लगी हुई आग नहीं है यह किसी ने रंजिश के चलते ही आग लगाई है और हम चाहते हैं कि पुलिस इस घटना को अंजाम देने वाले लोगों को जल्द से जल्द पकड़े.
थाना प्रभारी ने बताया कि हमें सुबह 3:00 बजे के करीब सूचना मिली थी जिसमें हम अपनी टीम को लेकर मौके पर पहुंचे उस समय भी आग लगी हुई थी 5 ब्रिगेड की गाड़ी को बुलाया गया था और आग काफी मशक्कत के बाद बुझाई गई क्योंकि वह शराब की बोतलों में लगी हुई थी। जिसमें 2 लोगों की जलने के कारण मौत हो गई एक व्यक्ति गांव कुराड का रहने वाला शमशेर है और एक नेपाली है दोनों के शव कैथल के सरकारी हॉस्पिटल में भेज दिए गए हैं और पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।
फिलहाल हमने ठेकेदार के बयान के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है ठेकेदार को संदेह है कि यह आग किसी ने जानबूझकर लगाई है
पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है जिस प्रकार ठेकेदार का कहना है कि उन्हें हत्या की आशंका है तो हम कह सकते हैं कि लोग डाउन 4 में छूट देने के बाद जिले में क्राइम का ग्राफ बढ़ रहा है

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।