राष्ट्र निर्माण की मुहिम में सामाजिक कार्यकर्त्ता और राष्ट्रीय बजरंग दल के प्रान्त अध्यक्ष आशुतोष पांडेय आम आदमी पार्टी में हुए शामिल
May 19th, 2020 | Post by :- | 215 Views

क्रांतिकारी सोच व संघर्ष के साथियों का एक जुट होने से आम आदमी पार्टी को मिलेगी मजबूती-कोमल हुपेण्डी प्रदेश अध्यक्ष आम आदमी पार्टी छत्तीसगढ़

आम आदमी पार्टी अपने संगठन के विस्तार में लगातार सफल हो रही है। राष्ट्र निर्माण की इस मुहिम में सामाजिक कार्यकर्त्ता और बजरंग दल के प्रान्त अध्यक्ष आशुतोष पांडे जी आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए है। प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेण्डी ने उन्हें आज पार्टी को टोपी पहना कर पार्टी में शामिल किया।
प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेण्डी ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य बनने के 20 बरस हो गए लेकिन छत्तीसगढ़ में शिक्षा,स्वास्थ्य की स्थिति बदतर है।बेरोजगारों को रोजगार नहीं मिल रहे।मजदूरों की दशा बेहद दयनीय है।किसान परेशान हैं।महिलाओं व आदिवासियों के साथ अन्याय हो रहा है।छत्तीसगढ़ की जनता भ्रष्ट कांग्रेस व भाजपा से त्रस्त हो चुकी है।
दिल्ली में अरविंद केजरीवाल  के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी की तीसरी बार सरकार बनने के बाद जनता में विश्वास जगा है।आशुतोष पाण्डे जी सामाजिक मंच के माध्यम से लोगों की सेवा करने वाले क्रांतिकारी व संघर्षशील साथी आशुतोष पाण्डे जी के आम आदमी पार्टी में शामिल होने से प्रदेश में पार्टी को मजबूती मिलेगी।प्रदेश सचिव उत्तम जायसवाल ने आशुतोष पाण्डे पार्टी प्रवेश पर हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि आशुतोष पाण्डे जमीनी नेता हैं,जिनका बस्तर के ग्रामीण क्षेत्रों में गहरी पैठ है।प्रदेश प्रवक्ता देवलाल नरेटी ने आशुतोष जी के पार्टी में शामिल होने से पार्टी की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाने में मदद मिलेगी।

आशुतोष पाण्डे ने कहा कि आम आदमी पार्टी देश की एकमात्र पार्टी है,जो सही मायने में देश हित का काम कर रही है।अरविंद केजरीवाल जी के नेतृत्व व आम आदमी पार्टी से प्रभावित होकर मैं आज अपने जन्मदिन के अवसर पर आम आदमी पार्टी प्रवेश कर रहा हूँ।
इस अवसर पर चंद्रभान श्रीवास्तव, पीताम्बर नाग,हेमन्त कौशिक,यशवंत यादव,गोवर्धन पटेल,शानू बघेल,पीयूष देवांगन,शेखर पटेल,कमलेश सलाम, जित्तू साहू आदि उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।