अपडेट आदेश  के उपरांत अब कंटेनमेंट जॉन में जिले के केवल एक गांव (रनियाला पटाकपुर)    
May 19th, 2020 | Post by :- | 118 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  जिलाधीश पंकज ने आपराधिक प्रक्रिया अधिनियम 1973 की धारा 22 (1) व 23(2)के तहत कोविड-19 के सम्बन्ध में पारित आदेशों की पालना व कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए  डयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त करने के आदेश जारी किये हैं। यह आदेश जिला में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने संक्रमण पर नियंत्रण के लिए दिए गए है ताकि अन्य जिलावासी इस महामारी की चपेट में न आएं। यह आदेश 16 मई 2020 को जारी आदेशों की निरन्तत्रा में लागू रहेंगे।
   योगेश कुमार उप मंडल अभियंता पंचायती राज को कंटेनमेंट जॉन में शमिल गांव रनियाला पटाकपुर  के साथ लगते गांव डूंगरान शहजादपुर , सटकपुरी , रहपुआ , बनारसी , ढाढोला , ढाढोली ,सुखपुरी , बाजीदपुर , उमरी , ख़्वाजलिकलां , खुर्द बफर जॉन के गांव में ड्यूटी मजिस्ट्रेट का कार्य देखेंगे तथा समय – समय पर सरकार व जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेशों की पालना करवाना सुनिश्चित करायेगे। जिलाधीश ने अपने आदेशों में कहा है कि संबंधित उपमंडल अधिकारी नागरिक अपने – अपने उपमंडल में ओवरऑल इंचार्ज होंगे। जिलाधीश पंकज ने बताया कि कंटेनमेंट जॉन की सभी हिदायतों की पालना , प्रयोगशाला द्वारा कंफर्म केस के डिस्चार्ज उपरांत 28 दिन की अवधि की पुष्टि उपरांत जिले के एक गांव को कंटेनमेंट जॉन की श्रेणी व सीलिंग से बाहार किया जाता है , अब जिले में केवल 01 गांव ही कंटेनमेंट जॉन में शेष रह गया है।
 कंटेनमेंट जॉन से मुक्त किए गए गांव इस प्रकार हैं :-लाहबास गांव के साथ लगते बफर जॉन के गांव कपूरबास , नसीरपुर , मुंढेता को स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों के अनुसार कंटेनमेंट व बफर जॉन से मुक्त किया गया हैं ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।