मेवात जिले में पिछले कुछ दिनों से गोलियों की धाय – धाय की आवाज सबको हैरत में डाल रही
May 18th, 2020 | Post by :- | 114 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  जिले में  पिछले कुछ दिनों से गोलियों की धाय – धाय की आवाज  सबको हैरत में डाल रही है ।  सीआईए नूह पुलिस पिछले दो दिन से लगातार  मुठभेड़ के दौरान  इनामी बदमाशों को गोली मारकर घायल कर दबोचने में सफलता प्राप्त कर रही है तो कई शहर – गांवों में  गोलियों की आवाज  गूंज रही है। करीब सप्ताह भर में जिले में  3 – 4 से अधिक गोलियां चलने की वारदात सामने आ चुकी हैं । अल आफ़िया सामान्य अस्पताल मांडीखेड़ा में भर्ती दो नामचीन बदमाशों का पुलिस के जवान हथियारों से लैस होकर लगातार पहरा दे रहे हैं । घायल बदमाशों से  किसी को मिलने की इजाजत नहीं है । यहां तक कि मीडिया कर्मियों को भी कवरेज करने से रोका जा रहा है । पुलिस के अधिकारी प्रेस नोट जारी कर वैसे तो लंबा – चौड़ा बखान कर वाहवाही लूट रहे हैं , लेकिन मीडिया कर्मियों के सामने आकर कोई बयान इन घटनाओं पर नहीं दिया जा रहा है । आपको बता दें कि शनिवार को सीआईए नूह  ने बााजिदपुर गांव के फारूक को मुठभेड़ के दौरान गोली मारकर घायल कर पकड़ने का दावा किया था । उसके अगले ही दिन 50 हजार के इनामी बदमाश को फिर उसी स्टाइल में गोली मार दबोच लिया , जबकि उसके दूसरे साथी को खरोच तक नहीं आई । शनिवार की घटना में पुलिस के जवानों तथा वाहनों में गोली लगने का कोई जिक्र नहीं था , लेकिन रविवार को पुलिस ने अपने वाहन में मुठभेड़ के दौरान गोली लगने का जिक्र जरूर कर दिया। 
पुलिस प्रवक्ता से प्राप्त जानकारी अनुसार गत 16 मई को सीआईए वन नूह इंचार्ज निरीक्षक विपिन कुमार के नेतृत्व में गठित टीम ने गुप्तचर की सूचना के आधार पर 50 हजार केे ईनामी बदमाश शौकत पुत्र इलियास निवासी शिकारपुर व उसके साथी बदमाश राहुल पुत्र इलियास निवासी शिकारपुर थाना तावडू जिला नूह के बारे में सूचना मिली की बिना नम्बरी बाइक पर सवार होकर घासेडा की कच्ची नहर पटडी से होते हुये नूह – पलवल रोड पर आने वाले हैं। अगर नाकाबंदी की जाए तो उन्हें पकडा जा सकता है। पुलिस ने जाल बिछाया तो कुछ समय बाद ही मोटर साईकिल पर सवार दो बदमाश नाका ड्युटी पर पुलिस पार्टी को खडी देखकर तथा पुलिस पार्टी द्वारा बदमाशों को रुकने का ईशारा करने पर मोटर साईकिल पर पीछे बैठे हुये बदमाश ने पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नियत से सीधा फायर किया ।  गोली सरकारी गाडी के कन्डेक्टर साईड में खिडकी पर लगी । किसी जवान को खरोच तक नहीं आई ।विपिन कुमार ने बदमाशों को हथियार फैंककर पुलिस को आत्मसमर्पण बारे कहा तो दोनों बदमाश मोटर साईकिल को वापिस मोडकर घासेडा गांव की तरफ भागने लगे । जिस पर पुलिस पार्टी द्वारा जवाबी कार्रवाई में इंचार्ज निरीक्षक विपिन कुमार ने भी आत्मरक्षा में उपरोक्त बदमाशों पर फायर किया । इसी के दौरान बदमाश के पैर में गोली लगी , जिसको काबू करने पर बदमाश का नाम शौकत पुत्र इलियास निवासी शिकारपुर मालूम हुआ । बदमाश शौकत पर हरियाणा पुलिस द्वारा ईनाम घोषित है व बदमाश शौकत के कब्जा से एक देशी कट्टा बरामद किया तथा मौका से दो खाली खोल बरामद किये ।  दूसरे बदमाश को काबू करने पर बदमाश का नाम राहुल पुत्र इलियास निवासी शिकारपुर थाना सदर तावडू मालूम हुआ , जिसके कब्जा से एक देशी कट्टा व एक जिंदा रौंद बरामद हुआ । बदमाश शौकत को पैर में लगी गोली से घायल होने पर ईलाज हेतु सामान्य अस्पताल मांडीखेड़ा में दाखिल कराया गया । उक्त घटना के सम्बन्ध में पुलिस टीम इंचार्ज निरीक्षक विपिन कुमार की शिकायत पर गत 16 मई को भारतीय दंड संहिता की धारा 186 ,188 , 269 , 270 , 307 , 332 , 353 , 427, 34 आईपीसी के अलावा शस्त्र अधिनियम थाना सदर नूह अंकित किया गया । उप निरीक्षक सकुन्तराज द्वारा मामले की जांच की जा रही है । ईनामी बदमाश शौकत को ईलाज उपरांत शामिल तफ्तीश कर गहनता से पूछताछ की जायेगी व बदमाश राहुल को उपरोक्त मुकदमा में नियमानुसार गिरफ्तार करके गहनता से पूछताछ की जा रही है । उपरोक्त दोनों बदमाश उपरोक्त मुकदमा के अतिरिक्त जिला नूह के अन्य मुकदमों में भी वांछित है व बदमाश शौकत पर नूह के मुकदमों के अतिरिक्त दिल्ली , फरीदाबाद , राजस्थान , महाराष्ट्र , उत्तराखण्ड व अन्य राज्यों में भी एटीएम काटने के मुकदमें अंकित है ।  निरीक्षक विपिन कुमार इंचार्ज सीआईए वन के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा साहस दिखाते हुये अपनी जान की परवाह न करते हुये उपरोक्त बदमाश शौकत  व बदमाश राहुल को गिरफ्तार करने में विशेष सफलता हासिल की । बदमाश राहुल
उपरोक्त को आज पेश अदालत किया गया , जिसे अदालत ने भोंडसी जेल भेज दिया ।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।