प्रवासी मजदूरों की पीड़ा जानने केएमपी पहुंचे आफताब, खुद गाड़ी देकर पहुंचाया घर
May 18th, 2020 | Post by :- | 157 Views
नूंह मेवात , ( लियाकत अली )  ।  कांग्रेस विधायक दल के उप नेता चौधरी आफताब अहमद ने कल मंगलवार को कुंडली मानेसर पलवल एक्सप्रेस वे पर पहुंचकर वहां से गुजर रहे प्रवासी मजदूरों की स्तिथि जानी। नूह विधायक आफताब अहमद ने मरीजों को केला, पानी, बिस्किट आदि बांटे और फिर खुद अपनी तरफ से वाहन करके मजदूरों को उनके घर रवाना किया।
चौधरी आफताब अहमद के साथ उनके पुलिस सुरक्षा कर्मियों को देखकर मजदूरों थोड़ी दूर रुक गए और डरकर वापस होने लगे, उन्हें लगा कि पुलिस उन पर बल प्रयोग करेगी। लेकिन कांग्रेस विधायक दल के उप नेता आफताब अहमद ने जोर जोर से आवाज लगाकर उनको आश्वस्त किया कि वो उनकी मदद को आए हैं। ये सुनकर सभी मजदूर उनके पास आ गए  और भावुक हो गए। आफताब अहमद ने उन्हें दिलासा दिलाते हुए अपनी तरफ से वाहन का इंतजाम कर के उन्हें खाने पीने के सामान के साथ विदा कर दिया। इस दौरान आफताब अहमद ने केएमपी पर कई किलोमीटर चलकर जायज़ा लिया।
पत्रकारों से बातचीत में सीएलपी उप नेता आफताब अहमद बीजेपी सरकार की नाकामी पर बेहद गर्म नजर आए। उन्होंने कहा कि 56 दिन बीत जाने के बाद भी मजदूर हजारों की संख्या में सड़क पर मारा मारा फिर रहा है, वो घर नहीं पहुंच पा रहा है। सैंकड़ों मजदूर रास्ते में जान गवां चुके हैं, ये बहुत दुखद है।
नूह विधायक चौधरी आफताब अहमद ने कहा कि बीजेपी की चाहे राज्य सरकार हो या केंद्र सरकार मजदूरों, गरीबों के लिए कुछ भी नहीं कर पाई है, जो मजदूर पसीना बहाकर देश निर्माण करता था आज वो आंखों से खून बहाकर रो रहा है।
सीएलपी उप नेता आफताब अहमद ने कहा कि प्रदेश व देश के सभी धर्मों के लोगों ने व काफी संस्थाओं ने मजदूरों गरीबों की बहुत मदद की है अन्यथा हालात और भयानक व खतरनाक होते।
एक सवाल के जवाब में सीएलपी उप नेता आफताब अहमद ने जवाब दिया कि केंद्र सरकार को एक कमेटी गठित करनी चाहिए केंद्र स्तर पर भी और राज्य स्तर पर भी जिसमें सभी पार्टियों के नेताओं के नाम शामिल हों। सरकार जब बिल्कुल विफल हो चुकी है तो उसे देश के अनुभवी नेताओं के तजुर्बे व अनुभव का फायदा लेने में संकोच क्यूं है।
नूह विधायक आफताब अहमद ने एक सवाल के जवाब में कहा कि बीजेपी जब किसी की सरकार  गिरकर अपनी बनती है तो विशेष विमानों से विधायकों को लाया ले जाया जाता है और जब गरीब को घर पहुंचाने की बात होती है तो बीजेपी ने उन्हें मरने को सड़क पर छोड़ दिया। आफताब अहमद ने कहा कि पीएम केयर फंड के पैसे क्यों नहीं मजदूरों को दिए गए।
आफताब अहमद ने कहा कि ये सिर्फ बड़े अमीरों की सरकार है, गरीबों के लिए इनके पास कुछ नहीं है। आफताब अहमद ने कांग्रेस द्वारा भेजी बसों को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अजय बिष्ट द्वारा प्रदेश में ना घुसने देने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भाजपा मजदूरों व किसानों की पीड़ा को बढ़ा रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।