अब कृषि मशीनीकरण को बढ़ावा देगी हरियाणा सरकार।
May 16th, 2020 | Post by :- | 56 Views

करनाल, हरियाणा (रजत शर्मा)। कृषि विभाग की समाम स्कीम के अंतर्गत जिला के किसानों ने वित्त वर्ष 2019-20 में कृषि यंत्रों पर अनुदान पाने के लिए विभागीय वैबसाईट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट एग्री हरियाणा सीआरएम डॉट कॉम पर 29 फरवरी तक ऑनलाईन आवेदन किए थे।

कुल 1528 आवेदन किए गए, जिसमें लेजर लेंड लेवलर को छोड़ अन्य कृषि यंत्रों से सम्बंंधित 1126 आवेदन स्वीकार किए गए। इसके पश्चात मार्च माह में कोरोना वायरस से लॉकडाउन के चलते योजना का क्रियान्वयन नहीं किया जा सका था।

अब कृषि मशीनीकरण को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से सभी आवेदकों को अनुदान देने का निर्णय लिया गया है। उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने इस सम्बंध में जानकारी देते हुए बताया कि आवेदक किसानो से खंड स्तर पर सम्बंधित दस्तावेज लेने का निर्णय लिया गया है।

आवेदक किसान स्वयं सत्यापित दस्तावेजों में पासपोर्ट साईट फोटो, ऑनलाईन आवेदन की रसीद, आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक खाते की पासबुक, जिला में पंजीकृत ट्रैक्टर की वैध आर.सी., अनुसूचित जाति का लाभ लेेने के लिए जाति प्रमाण पत्र व अपनी जमीन की पटवारी द्वारा तसदीक की गई रिपोर्ट जैसे दस्तावेज देकर अनुदान पात्रता प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं।

जिन किसानो के पास स्वयं की जमीन नहीं है, वह पटवारी से अपने माता-पिता, पुत्र या पति-पत्नी के नाम कृषि योग्य जमीन की तसदीक करवाकर अनुदान का लाभ ले सकते हैं।
सहायक कृषि अभियंता जगदीश चंद्र मलिक ने बताया कि किसान उपरोक्त दस्तावेज 22 मई तक सम्बंधित खंड कृषि कार्यालय में जमा करवा सकते हैं।

दस्तावेज जमा होने के बाद किसानो की सुविधा के लिए ज्यादा भीड़ एकत्र ना हो, इसके लिए अनुदान प्रमाण पत्र भी खंड कृषि कार्यालय में ही 1 जून से 5 जून तक वितरित किए जाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि अधिक जानकारी के लिए उप कृषि निदेशक या सहायक कृषि अभियंता करनाल के कार्यालय से सम्पर्क कर सकते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।