मजदूरों की मजबूरी पर विपक्ष ना करे राजनीति ऊर्जा मंत्री: श्रीकांत शर्मा
May 16th, 2020 | Post by :- | 66 Views

मथुरा,(राजकुमार गुप्ता) उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा कहां कि मजदूरोंंंकी मजबूरी पर विपक्ष ना   राजनीति श्री शर्मा ने बताया कि  पंजाब, राजस्थान, महाराष्ट्र सरकार को श्रमिकों के लिए इंतजाम करने की नसीहत दें बहन प्रियंका  PM गरीब कल्याण योजना के तहत 41 करोड़ 67 लाख लाभार्थियों को 52,606 करोड़ रुपये की धनराशि अब तक दी गई | 8 करोड़ प्रवासी श्रमिकों को बगैर राशन कार्ड के दो महीने का मुफ्त राशन 3500 करोड़ रुपये का खर्च कर दिया जा रहा है | अब तक 1074 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाई गई हैं। 14 लाख श्रमिक घर पहुंचाए गए। कुल ट्रेनों में से 80% यूपी और बिहार के लिए चलाई गईं।  20 करोड़ से ज्यादा महिला जनधन खाता धारकों को 20 हजार करोड़ से ज्यादा की राशि दी गई| बहन प्रियंका वाड्रा उत्तर प्रदेश और बिहार आ रहे सबसे ज्यादा श्रमिक पंजाब, राजस्थान और महाराष्ट्र से पैदल चलकर आ रहे हैं। सरकार पर सवाल उठाने और मजदूरों की मजबूरी पर राजनीति करने की बजाय संवेदनशीलता का परिचय दीजिये। कांग्रेस शासित राज्यों से कहिये की उनकी भव्य इमारतों के निर्माण, कृषि क्षेत्र, उद्योगों में काम करने वाले और आमजन की रोजमर्रा की ज़रूरतों को पूरा करने वाले इन श्रमिकों को तपती धूप में, सैकड़ों किलोमीटर के रास्ते पर यूं ठोकरें खाने के लिए न छोड़ें।प्रियंका जी श्रमिकों और उनके परिवार की चिंता मोदी सरकार को है। मोदी सरकार उनकी सुरक्षित वापसी, उनके परिवार के भरण पोषण और रोजगार को लेकर संवेदनशील है। पीएम गरीब कल्याण योजना के जरिए शुरुआत में ही 1 करोड़ 70 लाख का पैकेज आर्थिक रूप से कमजोर तबकों को दिया गया। राज्यों को उनके लिये अनाज और धनराशि दोनों मुहैया कराई गई। यह भी आदेश दिए गए कि फंसे हुए श्रमिकों और अन्य यात्रियों की सुरक्षित वापसी की जिम्मेदारी स्थानीय प्रशासन की है। मोदी सरकार अब तक 1074 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से 14 लाख श्रमिकों को उनके घर पहुंचा चुकी है। बीजेपी शासित राज्यों में बसों से भी श्रमिकों को गंतव्य तक पहुंचाया जा रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।