कैंसर पीड़ित पत्रकार की खबर लगते ही अस्पताल पहुंचे: उपमन्यु
May 16th, 2020 | Post by :- | 78 Views

मथुरा,(राजकुमार गुप्ता)। एक पत्रकार साथी के कैंसर पीडि़त होने की जानकारी लगने के साथ ही नेशनल यूनियन जर्नलिस्ट ऑफ इण्डिया के राष्ट्रीय सचिव, उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष और ब्रज प्रेस क्लब अध्यक्ष कमलकांत उपमन्यु एडवोकेट तुरंत ही पत्रकारों के दल-बल सहित वृन्दावन के रामकृष्ण मिशन अस्पताल में यहां के प्रमुख स्वामी सुप्रकाशानंद महाराज और अस्पताल के प्रशासक स्वामी कालीरमन दास महाराज के पास पंहुचे और पत्रकार की हरसंभव मदद करने का अनुरोध किया। जिस पर सेवाभावी दोनों ही संत पुरूषों ने मदद का पूरा भरोसा दिया। इस दौरान वृन्दावन के पूर्व चेयरमैन मुकेश गौतम और बहुजन समाज पार्टी के नेता योगेश द्विवेदी, धर्माचार्य काष्र्णि नागेन्द्र महाराज भी साथ थे। दोनों संतों ने मदद का पूरा भरोसा दिलाते कहा कि इलाज में किसी प्रकार की कमी नहीं बरती जायेगी और जितना सहयोग होगा, अस्पताल उसमें पीछे नहीं हटेगा।
छोटी सी बात समाचारपत्र के संवाददाता शिशुपाल चौधरी काफी समय से कैंसर जैसे रोग से जूझ रहे हैं। पहले भी उन्होंने जयपुर के एसएमएस अस्पताल में अपना उपचार कराया था। कुछ समय तो उनका स्वास्थ्य ठीक रहा लेकिन उसके बाद फिर तबियत बिगडऩे लगी। लॉकडाउन के चलते अस्पतालों में चल रही भीड़भाड़ और कैंसर जैसे इलाज में विश्वसनीय अस्पताल को ध्यान में रखते वृन्दावन के रामकृष्ण मिशन सेवा आश्रम अस्पताल में दो रोज पूर्व पत्रकार को भर्ती कराया गया। जहां उनकी कीमो थेरैपी हो रही है। जब यह बात समाचारपत्र के प्रधान सम्पादक महेश रावत ने ब्रज प्रेस क्लब अध्यक्ष केा बतायी तो वह अपने साथियों के साथ तुरंत अस्पताल पंहुच गये। उपमन्यु की इस मानवीय सेवा और सहृदयता की जितनी प्रशंसा की जाये वह कम है। पत्रकारों के हितों के लिये संघर्षशीलता के साथ वे समय-समय पर पत्रकार परिवार के लोगों की मदद में कभी पीछे नहीं हटते। आज इस दौरान अस्पताल परिसर में पत्रकार धाराजीत सारस्वत, गौरव चौधरी, पवन गौतम, विपिन सारस्वत, प्रवेश चतुर्वेदी, ठाकुर नारायण सिंह सिंसौदिया ने शिशुपाल चौधरी का हालचाल जाना और उनकी हरसंभव का भरोसा दिलाया। रालोद नेता कु.नरेन्द्र सिंह और कांग्रेस नेता यामिनी रमण आचार्य ने भी पत्रकार की मदद का भरोसा दिलाते शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।
———————

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।