लोकडाउन में चौतरफा मार न मारे जिला पुलिस प्रशासन : विजय बंसल
May 15th, 2020 | Post by :- | 50 Views

मोरनी न्यूज़ (अरुण वर्मा)

–महामारी के समय पुलिस का योगदान अतुल्य,परन्तु आमजनमानस के धड़ले से चालान करना जनहित में नही
— गृह मंत्री अनिल विज से मांग,वार्निंग देकर राहत दे पुलिस प्रशासन,टारगेट पूरा करने की नजर से आमजनमानस को प्रताड़ित न करे

कालका,पिंजोर,पंचकूला,रायपुरानी,बरवाला समेत पूरे जिले में धड़ले से किए जा रहे चालानो को लेकर शिवालिक विकास मंच के अध्यक्ष व राज्य सरकार में चेयरमेन रह चुके विजय बंसल एडवोकेट ने आपत्ति जताते हुए कहा है कि कोरोना महामारी लोकडाउन के समय पुलिस प्रशासन आमजनमानस की जेब पर चौतरफा मार मारने का काम न करें।ऐसी विकट स्थितियों में सरकारी प्रशासन को जनता के सहयोग के लिए आगे रहना चाहिए नाकि उनपर आर्थिक बोझ डालकर मार मारी जाए।हालांकि विजय बंसल का कहना है कि इस महामारी के समय पुलिस प्रशासन का योगदान अतुल्य है पर लेकिन धड़ले से चालान करना जनहित में नही है।आए दिन जिला पंचकूला से सेकड़ो चालान कर सरकारी खजाने को तो हजारो चालान के पैसों से भरने का काम कर टारगेट पूरा किया जा रहा है पर लेकिन जनता को मूलभूत सुविधाएं राज्य सरकार मुहैया नही करवा रही है।सड़को की हालत खस्ता है,ट्रैफिक मैनेजमेंट बेकार है पर लेकिन चालान हजारो में किए जाते है।कोरोना महामारी के चलते कार्यत लोगो को तनख्वाह नही मिल रही,सरकार कोई आर्थिक सहयोग जनता को नही दे रही,कोई नीति व योजना नही बावजूद इसके जनता के चालान काटे जा रहे है। इस समय मे कोई भी बेफिजूल बाहर नही आ रहा,लोग जरूरत का सामान लेने ही जा रहे है,कोई भी अपना वाहन बिना जरूरत के नही निकाल रहा पर लेकिन पुलिस प्रशासन द्वारा उस समय मे ही चालान काटे जा रहे है।

यह हैरानी की बात है कि किसी का 5 हजार तो किसी का 25 हजार तक का चालान किया जा रहा है,अब ऐसे समय मे जनता की जेब पर इतनी मार जनहित में नही है।कानून तोड़ने वालों के खिलाफ क़ानूनी कार्यवाही की जाना जरूरी है पर लेकिन ऐसे विकट समय मे आर्थिक रूप से जुर्माना लेने की बजाय वार्निंग देने जैसे विकल्पों पर विचार किया जाना जरूरी है।

— एक तरफ तो सरकार से आर्थिक सहयोग की आस,दूसरी तरफ करोड़ो में ट्रैफिक चालान के रूप में राजस्व ले रही सरकार …

किसान कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विजय बंसल ने कहा कि एक तरफ तो जनता आर्थिक सहयोग के लिए राहत पैकेज की उम्मीद लगाए बैठी है तो वही पुलिस प्रशासन जिले से करोड़ो के चालान कर जनता की जेब खाली करने पर लगी हुई है।इस समय लोगो के रोजगार के साधन बन्द पड़े है,लगभग 2 महीने से या तो अपनी जमापूंजी के आधार पर या सामाजिक संस्थाओं के सहारे लोग अपना खान-पान रोजमर्रा की चीजों को पूरा कर रहे है तो वही ऐसे समय मे उनको राहत देते हुए वार्निंग देने की बजाए पुलिस प्रशासन धड़ले से चालान काट रही है।

— जनता दे रही पुलिस का साथ,रोजगार का आभाव फिर भी जनता आर्थिक शोषण का शिकार…

विजय बंसल ने कहा कि वैसे ही जिला पंचकूला अर्ध पहाड़ी व पिछड़ा क्षेत्र है,रोजगार के साधनों का आभाव है व हमेशा अन्य जिलों के मुकाबले जिला पंचकूला से चालान शुल्क ज्यादा लेकर ज्यादा चालान किए जाते है।इस समय मे जनता पुलिस व सरकार का साथ देते हुए मजबूती से कोरोना से लड़ रही है,रिलीफ फंड्स में योगदान दे रही है,आसपास जरूरतमंद की सहायता कर रही है पर लेकिन पुलिस प्रशासन द्वारा ट्रैफिक चालान के नाम पर जनता का आर्थिक शोषण किया जा रहा है।

— गृह मंत्री अनिल विज से मांग,चालान काटकर चौतरफा मार न मारे सरकार..

विजय बंसल ने इस मामले में अनिल विज गृहमंत्री,हरियाणा सरकार को ज्ञापन भेजकर मांग की है कि जिला पंचकूला में जनता के चालान काटकर चौतरफामार न मारी जाए।वार्निंग देकर वाहन चालकों को राहत दी जाए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।