नोडल अधिकारी एवं एचसीएस सतिन्द्र सिवाच ने नन्यौला और ठोल मंण्डियों का किया निरीक्षण।
May 15th, 2020 | Post by :- | 61 Views

अम्बाला, ( सुखविंदर सिंह ) हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन की तरफ से नियुक्त किए गए नोडल अधिकारी एचसीएस सतिन्द्र सिवाच ने शुक्रवार को अम्बाला जिला के तहत नन्यौला अनाज मंडी व कुरुक्षेत्र जिला के तहत ठोल मंडी का निरीक्षण करते हुए हरियाणा वेयर हाउसिंग एजेन्सी के अधिकारियों से किसानों की गेहूं खरीद व उठान सम्बधी जानकारी लेते हुए उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

नोडल अधिकारी ने निरीक्षण के दौरान हरियाणा वेयर हाउसिंग के जिला प्रबन्धक से अब तक दोनों मंण्डियों में ई पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रड किसानों की अब तक कितनी गेहूं की फसल खरीदी जा चूकी हैं और आगे कितनी खरीदी जानी हैं इसके बारे में जानकारी ली। उन्होनें अधिकारियों को निर्देश दिए कि ई पोर्टल पर रजिस्ट्रड जिन किसानों की फसल खरीदी जानी बकाया हैं उनकी फसल समयअवधि के तहत खरीदना सुनिश्चित करें। साथ ही जिन किसानों की फसल खरीदी जा चूकी है उसकी पेमेन्ट भी निर्धारित मापदण्डों के तहत तुरन्त करना सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी कहा कि फसल खरीदने के उपरान्त उठान के लिए जो गेहूं पड़ा हैं, उसे भी यहां से तुरन्त उठवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कई बार अचानक बरसात होने के कारण मंडी में पड़ी गेहूं खराब हो जाती हैं। इसीलिए उठान का कार्य भी तीव्रता से करें। वेयर हाउसिंग के जिला प्रबन्धक ने नोडल अधिकारी को अवगत करवाते हुए बताया कि आज शुक्रवार को नन्यौला अनाज मंडी में 9631.5 मीट्रिक टन गेहूं खरीदी जा चुकी है जबकि ठोल अनाज मंडी में 7799.2 मीट्रिक टन गेहूं खरीदी जा चुकी है। उन्होनें यह भी बताया कि गेहूं खरीद कार्य के साथ-साथ लिफ्ंिटग का कार्य भी किया जा रहा हैं। उन्होंने बताया कि ठोल अनाज मंडी में 111.5 मीट्रिक टन व नन्यौला अनाज मंडी में 878 मीट्रिक टन गेहूं का उठान किया जाना बाकी हैं, अधिकतर उठान किया जा चुका है। ई पोर्टल पर पंजीकृत किसान निर्धारित मापदण्डों की पालना करते हुए गेहूं खरीद कार्य में सहयोग दे रहे हैं।

उल्लेखनीय हैं कि नोडल अधिकारी एवं एचसीएस सतिन्द्र सिवाच को हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन की तरफ से जिला अम्बाला, पंचकूला, कैथल, यमुनानगर और कुरुक्षेत्र के लिये नियुक्त किया गया हैं। उन्होंने यह भी बताया कि वह समय समय पर मंडियों का निरीक्षण भी कर रहें हैं और मंण्डियों में किसानों या अन्य किसी की भी कोई भी समस्या उनके संज्ञान में आती हैं तो वे उसका समाधान भी करवाना सुनिश्चित कर रहे हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।