लोक स्वास्थ्य यान्त्रिकी विभाग में चोरी छिपे धड़ल्ले से बांटे जा रहे करोड़ो के शासकीय कामो का टेंडर
May 14th, 2020 | Post by :- | 165 Views

कांकेर :- लोक स्वास्थ्य यान्त्रिकी विभाग जिला कांकेर के टेंडर इस वर्ष कही नही दिखाई दे रहे न ही कोई सूचना न ही कोई निविदा इत्यादि। इस विषय मै एक पत्रकार द्वारा जांच करने पर पाया गया कि कार्यपालन अभियन्ता सहदेव राम नेताम ने बिना किसी सूचना के मनमाने ढंग से सा 40 टेंडर अपने ही नजदीकियों को बांटे जा रहे है। खबर पता लगने पर पत्रकार द्वारा और जानकारी लेने का प्रयास किया गया । परंतु सहदेव नेताम को इस काम को करने पर न कोई जवाब आया न कोई सफाई, इसका मतलब साफ है कि नेताम ने यह काम आपने अधिकारियों एवं मंत्रियो की मिली भगत से इन कामो की अंजाम दिया है। जहां जिले में नल फिटिंग एवम पानी की टँकीयो की कमी एवम गर्मी के मौसम में कई सारी आवश्यक संशाधनों की मरम्मत एवम निर्माण कार्यो एवम पाइपलाइन विस्तार इत्यदि की अवस्यता है वही। कांकेर जिले के मुख्य कार्यपालन अभियंता इस प्रकार के भष्टाचार में लिप्त है एवम इस लॉक डाउन के समय जहाँ लोगो के पास अपनी जीविका के संशाधन नही है । वही नेताम करोड़ो रुपये फ़र्ज़ी टेंडर भरवाकर सरकार को एवम आम जनता को बेकाबू लगाने में जुटे हुए हैं। गुप्त रिपोर्ट के अनुसार 40 से ज्यादा टेंडर गुप्त रूप से आवंटित किए गए वे जिस पर 30 से 40%सीधा कमीशन लिया गया है। इस प्रकार की योजनाओ को जनता के विकास के लिए टेंडर के माध्यम अच्छे से अच्छे विकास काम के लिए दिए जाते हैं । परंतु आम जनता हमेशा खाली हाथ रह जाती है। NRCW का भी एक टेंडर इसमें संधिग्ध है जिसमे अवैध रूप से करोड़ो रुपये के गबन टेंडर के एवज में बांटने का आरोप सहदेव नेताम मुख्य कार्यपालन अभियंता लोग स्वास्थ्य यान्त्रिकी विभाग पर लग रहे हैं भारतीय जनता पार्टी के कुछ मंत्रियों द्वारा भी इस विषय में स्टिंग ऑपरेशन करने और जल्द ही इस विभाग के कई अधिकारियों का वीडियो पूरे समाचार जगत में हडकंम मचाने वाला है । इस विषय पर मंत्री रूद्रकुमार का रवैया देखना होगा की वो इस मामले पर जांच के आदेश देते हैं या स्वयं भी इसमें भागीदार हैं।ओर इस विषय पर आप के लेखपाल एवम कांकेर कार्यपालन अभियन्ता के साथ मिल कर मामले की लीपापोती का काम करते है । बीजेपी की तरफ से अभी प्रतिक्रिया के लिए इंतज़ार करने की बात कही गई है पहले वो देखना चाहते हैं कि इस विषय पर मंत्री रूद्रकुमार जी से क्या रवैया रहता है। इस मामले की जांच के सम्बन्ध में वरिष्ठ मंत्रियों से भी बात की जाएगी एवम इसे बड़े के मुद्दे के रूप में कांग्रेस के मंत्री एवम अधिकारियों को घेरने का काम किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।