मलेरिया व डेंगू से बचाव के लिए गांवों में वितरित की गई मच्छरदानी|
May 13th, 2020 | Post by :- | 122 Views

हसनपुर पलवल (मुकेश वशिष्ट) :- होडल उपमंडल के जिन गांवों में मच्छरों के कारण मलेरिया व डेंगू जैसी बीमारियों के संकेत ज्यादा मात्रा में पाए जाते हैं उन गावों में भारत सरकार की ओर से जिला सिविल सर्जन के निर्देश पर ग्रामीणों को मच्छर दानी वितरित की जा रही है। बुधवार को गांव गोडोता में 4500 ग्रामीणों को मच्छरदानी वितरित की गई। मच्छरदानी वितरण कार्यक्रम का आयोजन गांव गौडोता की बडी चौपाल पर किया गया। कार्यक्रम में मुख्यअतिथि के रूप में क्षेत्रीय विधायक जगदीश नायर मौजूद थे जबकि अध्यक्षता स्वास्थ्य विभाग के एसएमओ डा. चरण गोपाल ने की।

क्षेत्रीय विधायक नायर ने बताया कि भारत सरकार की ओर से क्षेत्र के गांवों में मलेरिया व डेंगू जैसे अधिक मात्रा में संकत पाए जाते हैं उन गांवों में मच्छरदानियां उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि इन मच्छरदानियों को ग्रामीणों तक पहुंचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने उपमंडल में पुष्टि कर ऐसे आधा दर्जन गांवों को चूना है जिनमें इन मलेरिया व डेंगू के संकेत अधिक पाए जाते हैं।

इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग ने ग्रामीणों की सूची तैयार कर उनमें मच्छरदानी वितरण का कार्यक्रम आरंभ कर दिया है। उन्होंने बताया कि बुधवार को उन्होंने गांव गौडोता के 4500 ग्रामीणों को मच्छरदानियां वितरित की हैं। इससे पहले गांव शेषसाई में 550 तथा विजयगढ में छह सौ मच्छरदानी वितरित की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि सरकार ने उपमंडल स्वास्थ्य केंद्र को 30 हजार मच्छरदानियां उपलब्ध कर दी हैं जिनमें डबल बैड, बैड, खाट आदि सभी साइज की मच्छरदानी मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि क्षेत्र के गांवों को और मच्छरदानियों की जरूरत पडी तो भारत सरकार स्वास्थ्य विभाग को और भी मच्छरदानी उपलब्ध कराएंगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे editorlokhit@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।